Home /News /nation /

चमत्कार की उम्मीद मत करना: बहन प्रियंका को राहुल गांधी की सलाह

चमत्कार की उम्मीद मत करना: बहन प्रियंका को राहुल गांधी की सलाह

राहुल गांधी और प्रियंका गांधी मीटिंग के बाद AICC मुख्यालय से बाहर निकलते हुए

राहुल गांधी और प्रियंका गांधी मीटिंग के बाद AICC मुख्यालय से बाहर निकलते हुए

प्रियंका गांधी पूर्वी उत्तर प्रदेश में पार्टी मामलों की प्रभारी महासचिव के रूप में पहली बार AICC की बैठक में भाग ले रहीं थी. उन्होंने कहा कि वह तब तक आराम नहीं करेंगी जब तक राज्य में कांग्रेस की विचारधारा का झंडा ऊंचा नहीं हो जाता.

अधिक पढ़ें ...
    लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने गुरुवार को दिल्ली में एक रणनीतिक बैठक की. इस बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पार्टी महासचिवों से राज्य स्तर पर पार्टी को मजबूत बनाने के लिए कहा.

    मीटिंग में उत्तर प्रदेश पर ध्यान केंद्रित कते हुए कांग्रेस अध्यक्ष ने राज्य की प्रभारी प्रियंका गांधी और ज्योतिरादित्य सिंधिया से ‘दो महीने में चमत्कार की उम्मीद न करने’ और ‘राज्य चुनावों पर ध्यान लगाने’ के लिए कहा. प्रभारियों को 'मिशन मोड' में काम करने की सलाह दी गई है. राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस को विभाजनकारी राजनीति और ध्रुवीकरण से लड़ना होगा.

    पार्टी पदाधिकारियों को फरवरी के अंत तक लोकसभा चुनाव के लिए उम्मीदवारों के चयन को अंतिम रूप देने का निर्देश दिया गया है. पार्टी मुख्यालय में AICC के महासचिवों और विभिन्न राज्यों के प्रभारियों के साथ बैठक में राहुल गांधी ने कहा कि नए चेहरों को प्राथमिकता दी जानी चाहिए.

    प्रियंका गांधी पूर्वी उत्तर प्रदेश में पार्टी मामलों की प्रभारी महासचिव के रूप में पहली बार AICC की बैठक में भाग ले रहीं थी. उन्होंने कहा कि वह तब तक आराम नहीं करेंगी जब तक राज्य में कांग्रेस की विचारधारा का झंडा ऊंचा नहीं हो जाता. बैठक में प्रियंका गांधी ने कहा कि वह कांग्रेस के दूसरे नेताओं के साथ मिलकर यूपी में विभाजन और जातिवाद की राजनीति को समाप्त करने के लिए काम करेंगी.

    मीटिंग के बाद ट्विटर पर राहुल गांधी ने कहा, "मैं आज शाम AICC मुख्यालय में AICC महासचिवों और राज्य प्रभारियों से मिला. हमने व्यापक विषयों पर चर्चा की. टीम मैच के लिए तैयार है और हम फ्रंट फुट पर खेलेंगे."

    ये भी पढ़ें: मिशन 2019 का बिगुल बजाने आ रहे राहुल गांधी दे सकते हैं ये सौगातें

    कांग्रेस महासचिव (संगठन) केसी वेणुगोपाल ने कहा, "राहुल गांधी ने पार्टी नेताओं को यह सुनिश्चित करने के लिए कहा कि चुनाव कैंपेन सभ्य तरीके से होना चाहिए. बीजेपी की तरह नहीं."

    केसी वेणुगोपाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि मीटिंग में राहुल गांधी ने इस महीने तक उम्मीदवारों के चयन को पूरा करने का अल्टीमेटम दिया है. बैठक में विभिन्न राज्यों में चुनाव अभियान की निगरानी के लिए केंद्रीय स्तर पर एक तंत्र की आवश्यकता पर भी चर्चा की गई.

    तीन घंटे तक चली इस बैठक में चुनाव प्रचार की रणनीतियों और गठबंधनों पर भी चर्चा की गई. मीटिंग से बाहर निकलने के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने पत्रकारों को बताया कि सभी प्रभारी महासचिवों ने अपने विचार साझा किए और कांग्रेस अध्यक्ष ने उनसे कहा कि वह उनसे क्या अपेक्षा रखते हैं.

    वेणुगोपाल ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष ने देश की वर्तमान राजनीतिक स्थिति के बारे में भी स्पष्ट दृष्टिकोण दिया. राहुल गांधी ने आम चुनाव की तैयारियों की समीक्षा के लिए शनिवार को राष्ट्रीय राजधानी में राज्य के प्रमुखों और कांग्रेस विधायक दल के नेताओं की बैठक भी बुलाई है.

    ये भी पढ़ें: किसानों का आभार और लोकसभा चुनाव का शंखनाद करने आ रहे हैं राहुल गांधी

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

    Tags: Congress, Lok Sabha Election 2009, Priyanka gandhi, Rahul gandhi

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर