अपना शहर चुनें

States

भारत को जल्‍द मिलेगी एक और कोरोना वैक्‍सीन, स्पूतनिक-V के तीसरे चरण के ट्रायल को मिली मंजूरी

स्पूतनिक V के तीसरे चरण के ट्रायल को मंजूरी. (प्रतीकात्मक)
स्पूतनिक V के तीसरे चरण के ट्रायल को मंजूरी. (प्रतीकात्मक)

कोरोना वायरस की वैक्सीन कोविशील्ड (Covishield) और कोवैक्सीन (Covaxin) की इमरजेंसी यूज की मंजूरी अब एक और कंपनी डॉ. रेड्डीज़ लैबोरेटरीज़ को स्पूतनिक (Sputnik V Vaccine) के फेज-3 ट्रायल की इजाजत मिल गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 16, 2021, 8:13 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देशभर में कोरोना वैक्सीनेशन प्रोग्राम (Corona vaccination Programme) आज से शुरू हो गया है. वैक्सीनेशन शुरू होने से पहले कोरोना वैक्‍सीन को लेकर बड़ी खबर सामने आई है. कोरोना वायरस की वैक्सीन कोविशील्ड (Covishield) और कोवैक्सीन (Covaxin) की इमरजेंसी यूज की मंजूरी अब एक और कंपनी डॉ. रेड्डी लैबोरेटरीज़ को स्पूतनिक-V के फेज-3 ट्रायल की इजाजत मिल गई है. बता दें कि स्पूतनिक-V रूस की कंपनी द्वारा विकसित कोरोना वैक्सीन है.

डीसीजीआई ने डॉ. रेड्डी लैबोरेटरीज़ को कोरोना वैक्सीन के तीसरे फेज का ट्रायल करने की अनुमति दी है. स्पूतनिक-V वैक्‍सीन के तीसरे और अंतिम चरण में 1500 लोगों को वैक्‍सीन दी जाएगी. बता दें कि दुनियाभर में कोरोना की जंग लड़ने के लिए 200 से अधिक कोरोना वैक्‍सीन पर काम चल रहा है, जिसमें से 30 कंपनियां भारत में हैं.

गौरतलब है कि भारत में सीरम इंस्टीट्यूट की कोविशील्ड वैक्सीन, भारत बायोटेक की कोवैक्सीन को इमरजेंसी इस्तेमाल की इजाजत मिल चुकी है. इन दोनों वैक्‍सीन के अलावा गुजरात की जायकोविड वैक्‍सीन भी ट्रायल स्‍टेज में हैं. ऐसे में जल्‍द ही भारत में कई कोरोना वैक्‍सीन उपलब्‍ध हो जाएंगी.




इसे भी पढ़ें :- कोरोना वायरस पर आज होगा सबसे बड़ा प्रहार, जानें राज्‍यों की क्‍या है तैयारी और किसे लगेगा पहले टीका

डॉ. रेड्डीज़ लैबोरेटरीज़ के सह-चेयरमैन और प्रबंध निदेशक जी वी प्रसाद ने कहा कि यह वैक्‍सीन के क्लिनिकल ट्रायल का सबसे महत्वपूर्ण पड़ाव है. उन्होंने कहा कि डॉ. रेड्डीज़ लैब इसी महीने में तीसरे और अंतिम चरण की शुरुआत कर देगा. उन्होंने कहा कि हमें उम्मीद है कि हम भारत की जनता के लिए सुरक्षित और प्रभावी वैक्सीन लाएंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज