लाइव टीवी

अब महिलाएं 24 हफ्ते तक भी करा सकेंगी अबॉर्शन, केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बढ़ाई गर्भपात की अधिकतम सीमा

News18Hindi
Updated: January 29, 2020, 3:14 PM IST
अब महिलाएं 24 हफ्ते तक भी करा सकेंगी अबॉर्शन, केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बढ़ाई गर्भपात की अधिकतम सीमा
गर्भपात कराने की अधिकतम सीमा को 20 से बढ़ाकर 24 हफ्ते किया गया.

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) ने मीडिया को बताया कि कैबिनेट ने गर्भपात कराने की अनुमति के लिए अधिकतम सीमा 20 हफ्ते से बढ़ाकर 24 हफ्ते करने की मंजूरी दे दी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 29, 2020, 3:14 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्रीय मंत्रिमंडल ने चिकित्सा गर्भपात संशोधन विधेयक 2020 (Medical Termination of Pregnancy (Amendment) Bill, 2020) को बुधवार को मंजूरी दे दी, जिसमें गर्भपात (Abortion) कराने की सीमा को 20 सप्ताह से बढ़ाकर 24 सप्ताह करने का प्रावधान किया गया है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में इस आशय के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई. गर्भपात कराने की समय सीमा बढ़ाने के लिए कोर्ट में पिछले साल याचिका दाखिल की गई थी. इसके लिए संसद के आगामी सत्र में विधेयक लाया जाएगा. नई सरकार बनने के बाद ही इस मुद्दे पर चर्चा की जाएगी.

बताया 24 हफ्ते में गर्भपात कराना सुरक्षित
बैठक के बाद केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने मीडिया को बताया कि कैबिनेट ने गर्भपात कराने की अनुमति के लिए अधिकतम सीमा 20 हफ्ते से बढ़ाकर 24 हफ्ते करने की मंजूरी दे दी है. 20 हफ्ते में गर्भपात कराने पर मां की जान जाने के कई मामले सामने आए हैं, 24 हफ्ते में गर्भपात कराना सुरक्षित होगा. इस पर जावड़ेकर ने कहा कि इस कदम से बलात्कार पीड़िताओं और नाबालिगों को मदद मिलेगी.


मांग बढ़ने के कारण लिये यह निर्णय
अभी कुछ समय से यह सीमा बढ़ाने की मांग लगातार बढ़ती जा रही थी. वर्तमान में गर्भपात कानून काफी पुराना है, इस कानून में यह उल्लेखित किया गया है कि रजिस्टर्ड डॉक्टर द्वारा गर्भपात कराया जा सकता है लेकिन उसके लिए भी कई नियमों के दायरे में आना जरूरी है. उन्होंने कहा, गर्भपात अधिनियम (मेडिकल टर्मिनेशन ऑफ प्रेगनेंसी एक्ट) 1971 में संशोधन किया जायेगा. संसद के आगामी सत्र में यह विधेयक लाया जायेगा.

ये भी पढ़ें : निर्भया की मां बोलीं- SC पर पूरा भरोसा, 1 फरवरी को होगी सभी दोषियों को फांसी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 29, 2020, 2:57 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

भारत

  • एक्टिव केस

    5,095

     
  • कुल केस

    5,734

     
  • ठीक हुए

    472

     
  • मृत्यु

    166

     
स्रोत: स्वास्थ्य मंत्रालय, भारत सरकार
अपडेटेड: April 09 (08:00 AM)
हॉस्पिटल & टेस्टिंग सेंटर

दुनिया

  • एक्टिव केस

    1,099,679

     
  • कुल केस

    1,518,773

    +813
  • ठीक हुए

    330,589

     
  • मृत्यु

    88,505

    +50
स्रोत: जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी, U.S. (www.jhu.edu)
हॉस्पिटल & टेस्टिंग सेंटर