Home /News /nation /

पाकिस्तान में भारतीय हाई कमीशन के पास दिखा ड्रोन, भारत ने चेताया- ऐसी घटना दोबारा न हो

पाकिस्तान में भारतीय हाई कमीशन के पास दिखा ड्रोन, भारत ने चेताया- ऐसी घटना दोबारा न हो

 विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची. (तस्वीर ANI)

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची. (तस्वीर ANI)

विदेश मंत्रालय (MEA) के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा है-पाकिस्तान को इस बात की जांच करनी चाहिए कि दूतावास की सुरक्षा में सेंध कैसे लगी. उन्होंने कहा कि 26 जून को इस्लामाबाद स्थिति भारतीय दूतावास के ऊपर ड्रोन दिखाई दिया था. हम उम्मीद करते हैं कि पाकिस्तान इस मामले की जांच करेगा और सनिश्चित करेगा कि सुरक्षा में सेंध की घटना दोबारा न हो.

अधिक पढ़ें ...
    नई दिल्ली. पाकिस्तान में भारतीय हाई कमीशन (Indian High Commission) के पास ड्रोन दिखाई देने के मसले पर भारतीय विदेश मंत्रालय (MEA) ने तीखी प्रतिक्रिया दी है. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा है-पाकिस्तान को इस बात की जांच करनी चाहिए कि दूतावास की सुरक्षा में सेंध कैसे लगी. उन्होंने कहा कि 26 जून को इस्लामाबाद स्थित भारतीय दूतावास के ऊपर ड्रोन दिखाई दिया था. हम उम्मीद करते हैं कि पाकिस्तान इस मामले की जांच करेगा और सनिश्चित करेगा कि सुरक्षा में सेंध की घटना दोबारा न हो.

    बता दें कि पाकिस्तान स्थित भारतीय उच्चायोग में यह ड्रोन ऐसे समय में देखे गए हैं जब भारत में जम्मू-कश्मीर स्थित वायुसेना अड्डे पर दो ड्रोन से अटैक हुए. इस हमले के बाद भी लगातार ड्रोन दिखना जारी हैं. यह पहली बार है जब पाकिस्तान में भारतीय मिशन के अंदर ड्रोन देखे जाने की ऐसी घटना हुई है. मिशन के अंदर ड्रोन की मौजूदगी तब हुई जब एक कार्यक्रम चल रहा था. जिस दिन पाकिस्तान में ये घटना हुई इत्तेफाक से उसी दिन, जम्मू में भारतीय वायु सेना के अड्डे पर पहला ड्रोन हमला हुआ था.

    तालिबान नेता से एस. जयशंकर की मुलाकात की खबरें झूठी
    शुक्रवार को विदेश मंत्रालय की तरफ से एक बार फिर एस. जयशंकर की किसी भी तालिबान नेता के साथ मुलाकात की खबर को फर्जी बताया गया. विदेश मंत्रालय ने कहा है ये बातें पूरी तरह से निराधार और झूठी हैं. साथ ही मंत्रालय ने कहा कि अफगानिस्तान में बढ़ती हिंसा पर भारत की निगाहें बनी हुई हैं. भारत की तरफ से वहां मौजूद भारतीय नागरिकों के लिए एडवायजरी भी जारी की गई है.

    अफगानिस्तान में एडवायजरी
    अफगानिस्तान स्थित भारतीय दूतावास की ओर से कहा गया था कि भारतीय नागरिक भी अपवाद नहीं हैं और उन पर अगवा किये जाने का गंभीर खतरा मंडरा रहा है. दूतावास ने कहा कि मुख्य शहरों के बाहर यात्रा से बचना चाहिए और किसी भी आवश्यक काम से बाहर जाएं तो इसे जितना संभव हो उतना गोपनीय रखें. अमेरिका ने 11 सितंबर तक अपनी सेनाएं हटाने का ऐलान किया है जिसके कारण अफगानिस्तान में पिछले कुछ सप्ताह में कई हमले हुए हैं.

    Tags: Drone, Islamabad, Pakistan

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर