Home /News /nation /

ड्रग केस: क्या मुंद्रा अडानी बंदरगाह को फायदा हुआ? एनडीपीएस कोर्ट ने दिए जांच के आदेश

ड्रग केस: क्या मुंद्रा अडानी बंदरगाह को फायदा हुआ? एनडीपीएस कोर्ट ने दिए जांच के आदेश

डीआरआई ने 16 सितंबर को अफगानिस्तान से आयात की गई दो कंटेनर से 2,990 किलो हेरोइन बरामद की थी. (फाइल फोटो)

डीआरआई ने 16 सितंबर को अफगानिस्तान से आयात की गई दो कंटेनर से 2,990 किलो हेरोइन बरामद की थी. (फाइल फोटो)

बता दें कि राजस्व खुफिया निदेशालय (DRI) ने 16 सितंबर को अफगानिस्तान (Afghanistan) से आयात की गई दो कंटेनर से 2,990 किलो हेरोइन (Heroin) बरामद की थी. ड्रस की इतनी बड़ी खेप के मामले में चेन्नई से दो लोगों को गिरफ्तार किया गया था.

अधिक पढ़ें ...
  • News18Hindi
  • Last Updated :

    अहमदाबाद. गुजरात (Gujarat) में नारकोटिक ड्रग्स एंड साइकोट्रोपिक सब्सटेंस (NDPS) अधिनियम के तहत एक विशेष अदालत ने राजस्व खुफिया निदेशालय (DRI) को यह जांच करने का निर्देश दिया है कि क्या अडानी पोर्ट या उनके प्रबंधन को 2,990 किलोग्राम हेरोइन के आयात से कोई लाभ हुआ है?

    बता दें कि राजस्व खुफिया निदेशालय (डीआरआई) ने 16 सितंबर को अफगानिस्तान से आयात की गई दो कंटेनर से 2,990 किलो हेरोइन बरामद की थी. ड्रस की इतनी बड़ी खेप के मामले में चेन्नई से दो लोगों को गिरफ्तार किया गया था. मुंद्रा बंदरगाह का मालिकाना हक अडानी पोर्ट के पास है. अडानी पोर्ट गौतम अडानी की कंपनी है. सूत्रों का कहना है, यह खेप आंध्रप्रदेश के विजयवाड़ा में पंजीकृत मेसर्स आशी ट्रेडिंग कंपनी द्वारा आयात की गई थी और इसे टेल्कम पाउडर बताया गया था.

    पोर्ट के अधिकारियों और प्रशासन का क्या रोल रहा?
    इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक कोर्ट ने कहा है-इस बात की जांच किए जाने की जरूरत है कि मुंद्रा अडानी पोर्ट के प्रशासन और अधिकारियों का क्या रोल रहा है. ये कनसाइनमेंट विदेश से भारत भेजा गया और मुंद्रा पोर्ट पर आया. आखिर कैसे पोर्ट के अधिकारी और प्रशासन इसे लेकर बिल्कुल अनभिज्ञ थे.

    मुंद्रा पोर्ट पर ही क्यों कनसाइनमेंट
    अतिरिक्त जिला जज सीएम पवार ने यह भी कहा-‘कनसाइनमेंट मुंद्रा पोर्ट के लिए रजिस्टर हुआ और वहां पहुंचा. ये जगह गुजरात में है जो आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा से काफी दूर है.’ विजयवाड़ा के नजदीक चेन्नई पोर्ट है.

    सभी पक्षों की जांच करे डीआरआई
    कोर्ट ने जोर देकर कहा है कि डीआरआई को इस मामले से संबंधित सभी पक्षों पर जांच करनी चाहिए. कोर्ट ने कहा है कि अगर अन्य एजेंसी भी इस मामले में जांच कर रही हैं तब भी डीआरआई को सभी पक्षों पर विचार करते हुए जांच करनी चाहिए. दरअस सरकारी वकील ने दलील दी थी कि इस मामले में अन्य एजेंसियां भी जांच कर रही हैं.

    Tags: Afghanistan, Gujarat, Heroin

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर