होम /न्यूज /राष्ट्र /खुफिया एजेंसियों की बैठक में खुलासा, ड्रोन्‍स से हो रहा ड्रग्‍स का कारोबार, पाकिस्‍तान जा रहा पैसा

खुफिया एजेंसियों की बैठक में खुलासा, ड्रोन्‍स से हो रहा ड्रग्‍स का कारोबार, पाकिस्‍तान जा रहा पैसा

पंजाब के साथ लगती अंतरराष्‍ट्रीय सीमा से ड्रोन के जरिए पाकिस्‍तानी आतंकी हथियार और ड्रग्‍स भेजे गए  (प्रतीकात्‍मक फोटो)

पंजाब के साथ लगती अंतरराष्‍ट्रीय सीमा से ड्रोन के जरिए पाकिस्‍तानी आतंकी हथियार और ड्रग्‍स भेजे गए (प्रतीकात्‍मक फोटो)

पंजाब में इन दिनों पाकिस्‍तान की ओर से ड्रोन के जरिए भेजे गए हथियार और ड्रग्‍स की खबरें आम हो चली हैं. दिल्‍ली में पंजा ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

केंद्रीय गृह मंत्रालय में हुई बड़ी बैठक, पंजाब के अफसर भी हुए शामिल
पाकिस्‍तान से आ रहे हथियार और ड्रग्‍स वाले ड्रोन्‍स से निपटने पर हुई चर्चा
कुछ अपराधियों को दिल्‍ली लाकर होगी पूछताछ, अधिकारियों का निर्णय

नई दिल्‍ली. सुरक्षा और खुफिया एजेंसियों की बैठक में बड़ा खुलासा हुआ है कि पाकिस्तान के जरिए जो ड्रग्स पंजाब आता है, उसे बेचकर आधा पैसा वापस पाकिस्तान जाता है जिसका प्रयोग आतंकवाद के कामों में किया जाता है. साथ ही पंजाब को हथियारों और ड्रग्स के लिए ट्रांजिट प्वाइंट के तौर पर प्रयोग में लाया जा रहा है. इस खुलासे के बाद पंजाब की जेलों में बंद कुछ अपराधियों को पूछताछ के लिए दिल्ली लाया जा रहा है. पंजाब सीमा पर ड्रोन के जरिए लगातार आ रही ड्रग्स और हथियारों की बढ़ती तादाद को लेकर केंद्रीय खुफिया और सुरक्षा एजेंसियां खासी चिंतित हैं.

इसी मुद्दे को लेकर केंद्रीय गृह मंत्रालय में खुफिया और सुरक्षा एजेंसियों के बड़े अधिकारियों की बैठक हुई. इस बैठक में पंजाब पुलिस के बड़े अधिकारियों ने भी भाग लिया. सूत्रों ने बताया कि इस बैठक के दौरान बताया गया कि अब तक पंजाब में 19 ड्रोन से ज्यादा पकड़े या गिराए जा चुके हैं. इसके साथ ही बड़े पैमाने पर हथियार और ड्रग्स भी पकड़े गए हैं. बैठक में यह आकलन भी किया गया कि जो तादाद पकड़ी गई है, उससे कहीं ज्यादा ड्रग्स और हथियार बाहर चले गए हैं.

हथियार और ड्रग्‍स के लिए पंजाब बना ट्रांजिट प्‍वाइंट                                                           सरकारी दस्तावेजों के मुताबिक इस बैठक के दौरान पंजाब पुलिस ने यह बड़ा खुलासा किया कि ड्रोन के जरिए जो हथियार और ड्रग्स पंजाब भेजे जा रहे हैं उसे लेकर पंजाब को केवल ट्रांजिट प्वाइंट के तौर पर इस्तेमाल किया जा रहा है. इस मामले में पकड़े गए अपराधियों ने बताया कि उन्होंने फलां जगह पर इतने हथियार और मादक पदार्थ रखे हुए हैं, लेकिन जब इस संबंध में बरामदगी हुई तो वह उससे काफी कम निकली. पंजाब पुलिस ने बैठक में बताया कि उन्होंने इस मामले में गिरफ्तार अपराधियों से उनके द्वारा बताई गई जगह पर मौका मुआयना नक्शा बनाकर भी पूछताछ की और इस दौरान भी है पाया गया कि वास्तव में हथियार और मादक पदार्थ बाहर गए हैं.

जम्‍मू कश्‍मीर, राजस्‍थान और दिल्‍ली भेजे गए हथियार और ड्रग्‍स                                            बैठक में बताया गया कि यह हथियार और मादक पदार्थ देश के दूसरे हिस्सों में जा रहे हैं. विशेषकर जम्मू कश्मीर, राजस्थान, दिल्ली आदि जगहों पर यह सामान भेजा जा रहा है. सूत्रों ने बताया कि बैठक के दौरान इस बात का भी पता चला कि पाकिस्तान से जो मादक पदार्थ ड्रोन के जरिए भेजा जा रहा है. उसे भारत में बेच कर उसका आधा पैसा वापस पाकिस्तान भेजा जा रहा है क्योंकि पाकिस्तान की अपेक्षा भारत में मादक पदार्थ की कीमत में भारी अंतर है.

हवाला कारोबारियों समेत उन लोगों पर शिंकजा जो लेन-देन में थे शामिल                                 सूत्रों का कहना है कि यह पैसा कुछ हवाला व्यापारियों तथा सामान बेचने वाले व्यापारियों के जरिए इधर से उधर भेजा जा रहा है. सूत्रों ने बताया कि इस मामले में पूछताछ के लिए पंजाब से कुछ अपराधियों को दिल्ली भी लाया जा रहा है. खुफिया एजेंसियों का आकलन है कि पैसे का इस्तेमाल विशुद्ध रूप से आतंकवाद के कामों में किया जा रहा है. फिलहाल अब इस पूछताछ के आधार पर सुरक्षा और खुफिया एजेंसियां उन लोगों पर शिकंजा कसने में लग गई हैं जो इन पैसों को इधर से उधर भेजने का काम कर रहे हैं.

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें