Corona Vaccine Dry Run: कोरोना वैक्सीन हर भारतीय तक पहुंचाने की मेगा तैयारी, इन 4 राज्यों में आज से ड्राई रन

देश में आज से 4 राज्यों में कोरोना वैकसीन का ड्राई रन शुरू किया जा रहा है. 
(सांकेतिक तस्वीर)

देश में आज से 4 राज्यों में कोरोना वैकसीन का ड्राई रन शुरू किया जा रहा है. (सांकेतिक तस्वीर)

Coronavirus Vaccine Update: केंद्र सरकार (central government) आज से पंजाब समेत 4 राज्यों असम, आंध्र प्रदेश और गुजरात में कोरोना वैक्सीन (Coronavirus Vaccine) के ड्राई रन (Dry Run) की शुरुआत करने जा रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 28, 2020, 8:14 PM IST
  • Share this:

नई दिल्ली. देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते मामलों के बीच सरकार ने कोरोना वैक्सीन (Coronavirus Vaccine) की तैयारी भी तेज कर दी है. इसी कड़ी में केंद्र सरकार आज से पंजाब समेत 4 राज्यों असम, आंध्र प्रदेश और गुजरात में कोरोना वैक्सीन के ड्राई रन (Dry Run) की शुरुआत करने जा रही है. इन चारों राज्यों के दो जिलों में पांच जगहों पर यह ड्राई रन किया जाएगा. इस ड्राई रन का मकसद वैक्सीन से पहले सारी तैयारियों का जायजा लेना है और कोई भी कमी हो तो उसमें सुधार करना है.

कोरोना वैक्सीन के ड्राई रन के बारे में जानकारी देते हुए पंजाब के राज्य सूचना और जनसंपर्क विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि केंद्र सरकार ने कोरोना वैक्सीन के ड्राई रन के लिए लुधियाना और शहीद भगत सिंह नगर को चुना है. इन दोनों जिलों में 5-5 जगहों पर 28 और 29 दिसंबर को वैक्सीन का ड्राई रन आ​योजित किया जाएगा. बता दें कि किसी भी वैक्सीन का ड्राई रन इसलिए किया जाता है, जिससे वैक्सीन लोगों तक पहुंचाने से पहले इस बात का पता लगाया जा सके कि सब कुछ ठीक है. अगर कोई कमी है तो उसे ठीक किया जा सके.

Youtube Video

इसे भी पढ़ें :- AstraZeneca और ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की कोरोना वैक्सीन 100% सुरक्षित: CEO
ड्राई रन बिल्कुल कोरोना वैक्सीन देने जैसा ही होता है

वैज्ञानिकों के मुताबिक ड्राई रन बिल्कुल उसी तरह होगा, जिस तरह वैक्सीन लगाई जाएगी. ड्राई रन के दौरान लोगों को वैक्सीन नहीं दी जाएगी, सिर्फ उन लोगों का डेटा लिया जाएगा और उसे उपलोड किया जाएगा. ड्राई रन के दौरान माइक्रो प्लानिंग, सेशन साइट मैनेटमेंट और ऑनलाइन डेटा सिक्योर करने जैसी कई चीजों का परीक्षण होगा.

इसे भी पढ़ें :- US: Moderna कोरोना वैक्सीन लगाने से डॉक्टर हुआ बीमार, हॉस्पिटल में कराना पड़ा भर्ती



Co-Win मोबाइल ऐप से रखी जाएगी नजर

Co-Win मोबाइल ऐप के जरिए ड्राई रन के दौरान कोरोना वैक्सीन की हर गतिविधि पर नजर रचखी जा सकती है. इस ऐप की खास बात ये है कि इसमें वैक्सीन से जुड़े कई पहलुओं, जानकारी और जरूरी डेटा को ऑनलाइन देखा जा सकेगा. Co-Win एक डिजिटल प्‍लेटफॉर्म है जिससे कोविड-19 वैक्‍सीन डिलिवरी की रियल-टाइम में मॉनिटरिंग हो सकेगी. स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि इस ऐप से टीकाकरण की प्रक्रिया, प्रशासनिक क्रिया कलापों, टीकाकरण कर्मियों और उन लोगों के लिए एक मंच की तरह काम करेगा, जिन्हें वैक्सीन लगाई जानी है. सरकार पहले दो चरण में चुनिंदा लोगों को टीका लगवाएगी. इनमें पहले चरण में सभी फ्रंटलाइन हेल्थकेयर प्रोफेशनल्स और दूसरे चरण में आपातकालीन सेवाओं से जुड़े लोगों को वैक्सीन का टीका लगेगा.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज