अपना शहर चुनें

States

कल से पूरे देश में वैक्सीन का ड्राइ रन, डॉ. हर्षवर्धन बोले- वैज्ञानिकों को हमारा सलाम

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ हर्षवर्धन
केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ हर्षवर्धन

देश में कोरोना वैक्सीन (Dry Run) दिए जाने से पहले केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन (Harsh Vardhan) ने सभी प्रदेशों के स्वास्थ्य मंत्री से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से बात की. इस खास मौके पर डॉक्टर हर्षवर्धन ने कहा कि हमें अपने कोविड योद्धाओं की सराहना करनी चाहिए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 7, 2021, 2:31 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश में कोरोना वैक्सिनेशन (Covid-19 Vaccination) की तैयारियां जोरों पर चल रही हैं. केंद्र सरकार (Central Government) की तरफ से साफ किया जा चुका है कि आम लोगों तक वैक्सीन पहुंचाने की पूरी प्लानिंग कर ली गई है. 8 जनवरी यानि कल देश के सभी जिलों में कोरोना वैक्सिनेशन का ड्राइ रन (Dry Run) किया जाएगा. देश में कोरोना वैक्सीन दिए जाने से पहले केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन (Harsh Vardhan) ने सभी प्रदेशों के स्वास्थ्य मंत्री से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से बात की. इस खास मौके पर डॉक्टर हर्षवर्धन ने कहा कि हमें अपने कोविड योद्धाओं की सराहना करनी चाहिए. हम अपने स्वास्थ्य कर्मचारियों और वैज्ञानिकों को समान रूप से सलाम कर रहे हैं.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने कहा कि कोरोना वैक्सीन के शोध से लेकर वैक्सीन बनाने तक में हमने बहुत लंबी यात्रा की है. इस वक्त लगभग 30 वैक्सीन उम्मीदवार भारत में हैं, जिनमें से 7 ट्रायल फेज में हैं. अभी फिलहाल दो कोरोना वैक्सीन को मंजूरी दी जा चुकी है. हम जल्द ही प्रक्रिया शुरू करेंगे. हम भारत भर में कल से ड्राइ रन शुरू करने जा रहे हैं.


केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने बताया कि हमारी टीम ने 28 और 29 दिसंबर को चार राज्यों में दो दिनों के लिए ड्राइ रन किया था. इसके बाद 2 जनवरी को सभी राज्यों के 285 जिलों में ड्राइ रन चलाया गया. अब हम कल एक बार ​फिर कोरोना वैक्सीन का ड्राइ रन शुरू करने जा रहे हैं. अब हम कल 33 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों (हरियाणा, हिमाचल और अरुणाचल को छोड़कर) में ड्राइ रन चलाने जा रहे हैं. पिछले बार से जो सीख हमें मिली है उसको ध्यान में रखा जाएगा.



इसे भी पढ़ें :- वैक्सीन और हम : क्या टीका लगने के बाद संक्रमण का खतरा रहेगा

पहले चरण में तीस करोड़ लोगों का टीकाकरण किया जाना है
नेशनल कोविड टास्क फोर्स के हेड डॉ. विनोद पॉल ने कुछ दिनों पहले न्यूज़18 से बातचीत में बताया था कि कोविड टीकाकरण के लिए सरकार, इंडस्ट्री और अन्य स्टेकहोल्डर्स एक साथ मिलकर टीम की तरह काम रहे हैं. उन्होंने बताया था कि पहले फेज में देश के तीस करोड़ लोगों का टीकाकरण किया जाना है. इन्हें प्राथमिकता के आधार पर चुना गया है.

इसे भी पढ़ें :- पहले फेज में 3 करोड़ लोगों को फ्री मिलेगी कोरोना वैक्सीन, स्वास्थ्य मंत्री ने किया बड़ा ऐलान

ऐसे वैक्सिनेशन प्वाइंट्स तक पहुंचेगी कोविड वैक्सीन
देश में इसके 31 बड़े स्टॉक हब होंगे. इन स्टॉक हब से सभी राज्यों के 29 हजार वैक्सिनेशन प्वाइंट्स तक वैक्सीन की सप्लाई की जाएगी. सरकार साफ कर चुकी है कि लोगों के टीकाकरण में आर्थिक मामलों को आड़े नहीं आने दिया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज