पश्चिम बंगाल में कोविड के चलते 10वीं, 12वीं के प्री-बोर्ड एग्जाम नहीं होंगेः ममता बनर्जी

फाइल फोटोः पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी
फाइल फोटोः पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी

बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने बुधवार को कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) के चलते राज्य में 10वीं और 12वीं के बच्चों के प्री-बोर्ड एग्जाम नहीं होंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 11, 2020, 8:04 PM IST
  • Share this:
कोलकाता. कोरोना वायरस संकट (Coronavirus Crisis) को देखते हुए बंगाल सरकार ने बुधवार को अहम फैसला लिया. ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) की अगुवाई वाली बंगाल सरकार के शिक्षा विभाग ने 10वीं और 12वीं कक्षा के बच्चों की सेलेक्शन या प्री-बोर्ड परीक्षा ना लेने का फैसला किया है. बुधवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इस बारे में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर ऐलान किया.

राज्य सरकार का ये फैसला पश्चिम बंगाल सेकेंडरी और पश्चिम बंगाल हायर सेकेंडरी एजुकेशन बोर्ड के छात्रों पर लागू होगा. 10वीं और 12वीं छात्र सीधे 2021 में होने वाले बोर्ड परीक्षा में बैठ सकेंगे.

बंगाल सरकार ये फैसला उस समय आया जब चर्चाएं थीं कि कोविड संकट के चलते सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी (सीबीएसआई) 10वीं और 12वीं क्लास के शेड्यूल में बदलाव कर सकता है. इससे पहले सीबीएसई ने सेंट्रल टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट की परीक्षा को कोविड के चलते स्थगित कर दिया था, अब ये परीक्षा 31 जनवरी 2021 को होगी.



पश्चिम बंगाल में कोरोना वायरस संक्रमण की बात करें तो मंगलवार को एक दिन में सबसे ज्यादा मरीज ठीक हुए हैं. ठीक होने वाली मरीजों की संख्या 4,415 रही. इस तरह बंगाल में अब तक 3,72,265 लोग संक्रमण से ठीक हो चुके हैं. राज्य में डिस्चार्ज होने वाले लोगों की संख्या 90.11 प्रतिशत हो गई है. संक्रमण के चलते राज्य में मरने वालों की संख्या 7,403 हो गई है.
इसके साथ ही ममता बनर्जी ने बंगाल पुलिस की तीन नई बटालियनों की भी घोषणा की. इनमें से एक कूचबिहार के लिए नारायणी सेना, दूसरी गोरखा के लिए गोरखा बटालियन और तीसरी बटालियन जंगलमहल के लिए होगी. तीनों बटालियनों में प्रत्येक में 1 हजार पुलिस कर्मी होगी.



इस बीच बंगाल में उपशहरीय लोकल ट्रेनों (Bengal Local Trains) को परिचालन भी शुरू हो गया है. 7 महीने बाद शुरू हुई ये ट्रेनें कोविड गाइडलाइन के अनुसार चलाई जा रहीं हैं. मार्च 2020 के बाद से ही राज्य में लोकल ट्रेनों का संचालन ठप था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज