Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    देश में 79 लाख से ज्यादा लोग कोरोना से उबरे, अब तक 11.96 करोड़ हुए टेस्ट

    देश में अब तक 79 लाख से ज्‍यादा लोग कोरोना वायरस महामारी को मात दे चुके हैं. (फोटो साभार-AP)
    देश में अब तक 79 लाख से ज्‍यादा लोग कोरोना वायरस महामारी को मात दे चुके हैं. (फोटो साभार-AP)

    स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण (Rajesh Bhushan) ने मंगलवार को कहा कि बिहार चुनाव (Bihar Election 2020) में सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क और हैंड सैनिटाइजर का उपयोग संतोषजनक नहीं था.

    • News18Hindi
    • Last Updated: November 10, 2020, 10:46 PM IST
    • Share this:
    नई दिल्ली. स्वास्थ्य मंत्रालय (Health Ministry) ने मंगलवार को कहा कि देश में 79 लाख से ज्यादा लोग कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण से उबर ठीक चुके हैं. पिछले एक हफ्ते से औसतन हर रोज 51 हजार 476 लोग ठीक हो रहे हैं. मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण (Rajesh Bhushan) ने कहा कि अब तक 11.96 करोड़ से ज्यादा कोरोना वायरस संक्रमण के टेस्ट किए गए हैं. पिछले 7 दिनों से हर रोज 11 लाख टेस्ट किए जा रहे हैं. इस दौरान देश में संक्रमण की दर प्रतिदिन 4.2 प्रतिशत के आसपास रही है.

    स्वास्थ्य सचिव ने कहा कि प्रति दस लाख पर अभी 235 कोरोना वायरस संक्रमण के मामले हैं. ये आंकड़े पिछले 7 दिनों के डाटा पर आधारित है. दूसरी ओर वैश्विक स्तर पर प्रति दस लाख संक्रमण के 482 मामले सामने आ रहे हैं. पिछले हफ्ते से प्रति दस लाख लोगों पर 3 लोगों की मौत दर्ज की गई है, जबकि वैश्विक आंकड़ा 7 मामलों का है.

    स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक देश में कोरोना वायरस संक्रमण के 5 लाख 1 हजार 214 केस हैं, जबकि 1 लाख 27 हजार से ज्यादा लोगों की संक्रमण के चलते मौत हो गई है. कोरोना वायरस संक्रमण के मामले में सबसे ज्यादा प्रभावित राज्यों की बात करें, महाराष्ट्र, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु का नंबर आता है. पांचवें नंबर पर उत्तर प्रदेश है.



    कोरोना वायरस वैक्सीन के विकास के बारे में भूषण ने कहा कि COVID-19 वैक्सीन एडमिनिस्ट्रेशन को लेकर राष्ट्रीय स्तर पर विशेषज्ञों का एक समूह लगातार उत्पादकों और घरेलू-विदेशी कंपनियों से बात रहा है. हालांकि अभी कुछ कहा नहीं जा सकता. लेकिन जब भी रेगुलेटरी अप्रूवल आएंगे. पब्लिक के साथ सभी जानकारियां शेयर की जाएंगी.


    स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव ने कहा कि इस बातचीत में हम वैक्सीन के विकास कार्यों को देखते हैं. साथ ही नियामक संस्थाओं की ओर से मिले अप्रूवल भी वैक्सीन की स्थिति को बताते हैं. उन्होंने कहा कि विशेषज्ञों का समूह इस बात पर भी विचार करता है कि वैक्सीन को 2 से माइनस 90 डिग्री तापमान पर स्टोर के लिए लॉजिस्टिक जरूरतें क्या होंगी.

    बिहार चुनाव में सोशल डिस्टेसिंग, मास्क और हैंड सैनिटाइजर के उपयोग पर राजेश भूषण ने कहा कि चुनाव के दौरान हमारी टीम ने पाया कि स्थिति संतोषजनक नहीं है. हालांकि बाद में बिहार सरकार ने चीजों को ठीक करने के लिए कदम उठाए और इस बारे में स्वास्थ्य विभाग की टीम अपनी रिपोर्ट केंद्र और राज्य को सौंपेगी.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज