लॉकडाउन बढ़ने के दौरान दो हफ्ते इन चीजों पर लगी रहेगी पूरी तरह से रोक

लॉकडाउन बढ़ने के दौरान दो हफ्ते इन चीजों पर लगी रहेगी पूरी तरह से रोक
पूरे देश में लॉकडाउन को 17 मई तक बढ़ा दिया गया है (फाइल फोटो)

इसके अलावा बड़ी भीड़ वाली जगहें, जैसे सिनेमा हॉल, मॉल, जिम, स्पोर्ट कॉम्पलेक्स आदि. सामाजिक, राजनीतिक, सांस्कृतिक और अन्य तरह के आयोजन, और धार्मिक जगहें, पूजा की जगहों पर भी रोक जारी रहेगी.

  • Share this:
नई दिल्ली. गृह मंत्रालय (Government of India) की ओर से जारी आदेश में लॉकडाउन (Lockdown Part 3) को 4 मई से अगले 17 मई तक बढ़ाने की घोषणा की है. इसके साथ ही प्रतिबंधों को लेकर भी एक नई गाइडलाइन (Guidelines) जारी की गई है. लॉकडाउन-3 के लिए देश के सभी हिस्सों को रेड, ग्रीन और ऑरेन्ज जोन में बांटा गया है और सभी के लिए अलग-अलग गाइडलाइंस तैयार की गई हैं. ग्रीन और ऑरेन्ज जोन में काफी छूट दी गई हैं.

इस लॉकडाउन से कोरोना वायरस (Covid-19) के खिलाफ लड़ाई में देश को काफी लाभ हुआ है. इस दौरान कई तरह की छूट भी दी गई हैं लेकिन बहुत सी सेवाओं और जगहों पर प्रतिबंधों (Restrictions) अब भी जारी रहेगा.

इन जगहों पर जाने पर जारी रहेगा प्रतिबंध
नई गाइडलाइनों के मुताबिक देश में सभी जोन में सीमित मात्रा में गतिविधियों पर रोक जारी रहेगी. इसमें हवाई, रेल, मेट्रो और रोड के जरिए अंतरराज्यीय यात्राएं शामिल हैं. स्कूल, कॉलेज, और अन्य शैक्षणिक-प्रशिक्षण संस्थानों, कोचिंग संस्थानों, हॉस्पिटैलिटी सुविधाएं, जिसमें होटल (Hotels) और रेस्टोरेंट्स दोनों ही शामिल होंगे इन पर प्रतिबंध जारी रहेगा.
इसके अलावा बड़ी भीड़ वाली जगहें, जैसे सिनेमा हॉल, मॉल (Mall), जिम, स्पोर्ट कॉम्पलेक्स आदि. सामाजिक, राजनीतिक, सांस्कृतिक और अन्य तरह के आयोजन और धार्मिक जगहें, पूजा की जगहों पर भी रोक जारी रहेगी. हालांकि गृह मंत्रालय के जरिए जिन्हें वायु, रेल और रोड की यात्रा के लिए किसी कारणवश छूट दी गई है, वे यात्रा कर सकेंगे.



लोगों की सुरक्षा के लिए लॉकडाउन-3 में उठाए गए ये कदम 
नई गाइडलाइन में लोगों का खयाल रखने और उनकी सुरक्षा के लिए भी कई कदम उठाए गए हैं. इसलिए व्यक्तिगत स्तर पर होने वाले यातायात, सभी गैर-जरूरी गतिविधियां शाम 7 बजे से लेकर सवेरे 7 बजे तक प्रतिबंधित रहेंगे. स्थानीय प्रशासन उचित कानून के जरिए इसके लिए आदेश जारी करेंगी, जैसे CrPC की धारा 144 के तहत रोकथाम (कर्फ्यू के दौरान) और इसका कड़ाई से पालन कराएंगी.

सभी जोन में, 65 साल से ऊपर के व्यक्ति, ऐसे लोग जो कई रोगों से ग्रसित हैं, प्रेग्नेंट महिलाएं, 10 साल से कम उम्र के बच्चों को घर पर ही रहना चाहिए, जब तक कि स्वास्थ्य आदि वजहों से किसी जरूरी मुलाकात के लिए न जाना हो. ओपीडी (OPDs) और मेडिकल क्लीनिक को रेड, ऑरेन्ज और ग्रीन जोन में सामाजिक दूरी के नियमों और अन्य सुरक्षा उपायों के साथ काम करने की छूट रहेगी. हालांकि कंटेनमेंट जोन के अंदर इनकी छूट नहीं दी गई है.

यह भी पढ़ें:- कोरोना वायरस: देश में लॉकडाउन को दो हफ्ते के लिए और बढ़ाया गया
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज