अफ्रीकी देशों से भारत के संबंध प्रगाढ़, हमारे प्रोजेक्ट इसकी निशानी: UNSC ओपन डिबेट में एस. जयशंकर

भारत के विदेश मंत्री एस. जयशंकर. (फाइल फोटो)

भारत के विदेश मंत्री एस. जयशंकर. (फाइल फोटो)

विदेश मंत्री एस. जयशंकर (EAM Dr S Jaishankar) ने कहा-दुनिया के अन्य हिस्सों की तरह अफ्रीका भी कोरोना का मुकाबला कर रहा है. इस त्रासदी में दुनिया को अफ्रीका के साथ खड़ा होना चाहिए. भारत ने अपनी तरफ से दवाएं, वैक्सीन और मेडिकल उपकरण भेजने का काम किया है. हम वैक्सीन की उपलब्धता को लेकर दक्षिण अफ्रीका के साथ मिलकर काम कर रहे हैं.

  • Share this:

नई दिल्ली. भारतीय विदेश मंत्री एस. जयशंकर (EAM Dr S Jaishankar) ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की ओपन डिबेट (UNSC Open Debate) में अफ्रीका के साथ बेहतरीन संबंधों का हवाला दिया है. उन्होंने कहा-भारत और अफ्रीकी देशों के बीच मजबूत संबंध 'वैश्विक दक्षिण' (Global South) संबंधों को दर्शाते हैं. हमारे गठबंधन में इंडिया-अफ्रीका फोरम सम्मिट, जी 77 और गुट निरपेक्ष आंदोलन शामिल है.

उन्होंने कहा- दुनिया के अन्य हिस्सों की तरह अफ्रीका भी कोरोना का मुकाबला कर रहा है. इस त्रासदी में दुनियाभर के देशों को अफ्रीका के साथ खड़ा होना चाहिए. भारत ने अपनी तरफ से दवाएं, वैक्सीन और मेडिकल उपकरण भेजने का काम किया है. हम वैक्सीन की उपलब्धता को लेकर दक्षिण अफ्रीका के साथ मिलकर काम कर रहे हैं.

भारत के 41 अफ्रीकी देशों में 189 प्रोजेक्ट चल रहे हैं

एस. जयशंकर ने कहा-भारत का अप्रोच कंपाला सिंद्धांतों के मुताबिक है. भारत हमेशा अफ्रीका की प्राथमिकताओं पर ध्यान देता रहेगा.अफ्रीका को हमारा समर्थन बिना शर्त और अफ्रीका की उम्मीदों के मुताबिक है. भारत के 41 अफ्रीकी देशों में 189 प्रोजेक्ट चल रहे हैं. ये प्रोजेक्ट रियायती दरों के तहत चलाए जा रहे हैं. हमारी पीसकीपिंग उपस्थिति दक्षिणी सूडान, सोमालिया, कॉन्गो जैसे देशों में मौजूद है.
वैक्सीन की कमी से दिक्कत में हैं अफ्रीकी

समाचार एजेंसी रॉयटर्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक भारत द्वारा इस वक्त वैक्सीन निर्यात पर रोक की वजह से अफ्रीका को दिक्कतों को सामना करना पड़ा रहा है. रिपोर्ट के मुताबिक भारत ने करीब एक महीने पहले अफ्रीकी देशों को वैक्सीन निर्यात रोक दिया था. दरअसल एकाएक कोरोना की भीषण दूसरी लहर की चपेट में आए भारत में वैक्सीनेशन की मांग बहुत तेज हो गई है. माना जा रहा है कि इसी वजह से इस पर रोक लगाई गई है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज