Earthquake in Assam: असम में फिर आया भूकंप, एक दिन में 6 बार लगे तेज झटके

असम में पिछले 24 घंटे में 6 बार भूकंप के झटके महसूस किए गए.

असम में पिछले 24 घंटे में 6 बार भूकंप के झटके महसूस किए गए.

खबर है कि भूकंप (Earthquake) का पहला झटका रात 12 बजकर 24 मिनट पर महसूस किया गया. अंतिम झटका दो बजकर 38 मिनट पर लगा. जानकारी के मुताबिक रात करीब 1 बजकर 20 मिनट पर आया भूकंप सबसे अधिक तीव्रता वाला था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 29, 2021, 8:05 AM IST
  • Share this:
दिसपुर. कोरोना (Corona) से बिगड़े हालात के बीच असम (Assam) में देर रात आए भूकंप (Earthquake) के झटकों ने हर किसी को दहशत में डाल दिया. गुरुवार देर रात सोनितपुर में लगातार 6 बार भूकंप के झटके महसूस किए गए. खबर है कि भूकंप का पहला झटका रात 12 बजकर 24 मिनट पर महसूस किया गया. अंतिम झटका दो बजकर 38 मिनट पर लगा. जानकारी के मुताबिक रात करीब 1 बजकर 20 मिनट पर आया भूकंप सबसे अधिक तीव्रता वाला था. पिछले 24 घंटे के अंदर 6 बार भूकंप ने दस्‍तक दी.

असम में बुधवार की सुबह भी कई बार भूकंप के झटके महसूस किए गए थे. भूकंप की तीव्रता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि इन झटकों से कई इमारों को नुकसान हुआ और अलग अलग जिलों में 10 लोग घायल हो गए. क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र (आरएमसी) के अनुसार असम के सोनितपुर जिला के मुख्यालय तेजपुर में बुधवार सुबह सात बजकर 51 मिनट पर 6.4 तीव्रता का पहला भूकंप आया. भूकंप के झटके पूरे पूर्वोत्तर क्षेत्र में महसूस किए गए और इसका असर पश्चिम बंगाल, भूटान और बांग्लादेश में भी देखने को मिला.



इसे भी पढ़ें :- 2011 की सुनामी में बंद हो गई थी 100 साल पुरानी जापानी घड़ी, भूकंप आने पर लगी चलने
क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र (आरएमसी) के मुताबिक बुधवार की सुबह 4 बार भूकंप के महसूस किए गए. पहला झटका सुबह आठ बजकर तीन मिनट पर दूसरा आठ बजकर 13 मिनट, तीसरा झटका आठ बजकर 25 मिनट पर और चौथा झटका आठ बजकर 44 मिनट पर महसूस किया गया.

इसे भी पढ़ें :- हिमाचल की अस्थिरता पर वैज्ञानिकों ने जाहिर की चिंता, बड़े स्तर पर भूकंप की दी चेतावनी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जाना हाल



असम में भूकंप के तेज झटकों से लोगों में दहशत का माहौल बन गया. लोग घरों से बाहर निकल आए. असम में आए भूकंप से जुड़ी जानकारी लेने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी ने मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल से फोन पर बात की और सभी जरूरी मदद देने का आश्वासन दिया. भूकंप से प्रभावित जिलों के हालात का जायजा लेने के लिए सोनोवाल ने भूकंप के केंद्र के समीप धेकियाजुली एवं सोनितपुर जिल में आसपास के क्षेत्रों का दौरा किया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज