भूकंप के झटकों से हिला अंडमान-निकोबार, रिक्टर पैमाने पर तीव्रता 4.3

भूकंप आने के बाद लोग घर से बाहर आ गए. (सांकेतिक फोटो)

भूकंप के झटके महसूस होने के बाद लोग घरों से बाहर गए. हालांकि अब तक किसी प्रकार की जान माल के नुकसान की जानकारी नहीं मिली है.

  • Share this:



    नई दिल्ली. अंडमान-निकोबार द्वीप समूह (Andaman and Nicobar islands) में भूकंप (Earthquake) के झटके महसूस किए गए हैं. नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी के मुताबिक, भूकंप के झटके अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के डिगलीपुर के 55 किमी दक्षिण-दक्षिण पश्चिम में शाम 7 बजकर 5 मिनट पर महसूस किए गए हैं. रिक्टर पैमाने पर भूकंप की तीव्रता 4.3 मापी गई है. भूकंप के झटके महसूस होने के बाद लोग घरों से बाहर गए. हालांकि अब तक किसी प्रकार की जान माल के नुकसान की जानकारी नहीं मिली है.













    1 दिसंबर को देश के इस हिस्से में महसूस किए गए थे भूकंप के झटके
    उल्लेखनीय है कि इससे पहले उत्तराखंड के हरिद्वार में एक दिसंबर की सुबह भूकंप के झटके महसूस किए गए थे. रिक्टर पैमाने पर इसकी तीव्रता 3.9 मैग्नीट्यूड मापी गई थी. भूकंप का केंद्र हरिद्वार से 22 किमी दूर उत्तर पश्चिम दिशा की ओर था. इससे पहले उत्तरकाशी में भूकंप आया था. रिक्टर पैमाने पर जिसक तीव्रता 3.4 मापी गई थी. भूकंप का केंद्र टिहरी गढ़वाल था.


    क्यों महसूस किए जाते हैं भूकंप के झटके?
    धरती के भीतर कई प्लेटें होती हैं जो समय-समय पर विस्थापित होती हैं. इस सिद्धांत को अंग्रेजी में प्लेट टैक्टॉनिकक और हिंदी में प्लेट विवर्तनिकी कहते हैं. इस सिद्धांत के अनुसार पृथ्वी की ऊपरी परत लगभग 80 से 100 किलोमीटर मोटी होती है जिसे स्थल मंडल कहते हैं. पृथ्वी के इस भाग में कई टुकड़ों में टूटी हुई प्लेटें होती हैं जो तैरती रहती हैं.

    सामान्य रूप से यह प्लेटें 10-40 मिलिमीटर प्रति वर्ष की गति से गतिशील रहती हैं. हालांकि इनमें कुछ की गति 160 मिलिमीटर प्रति वर्ष भी होती है. भूकंप की तीव्रता मापने के लिए रिक्टर स्केल का पैमाना इस्तेमाल किया जाता है. इसे रिक्टर मैग्नीट्यूड टेस्ट स्केल कहा जाता है. भूकंप की तरंगों को रिक्टर स्केल 1 से 9 तक के आधार पर मापा जाता है.












    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.