24 घंटे में देश में तीसरी बार भूकंप के झटके, लद्दाख, गुजरात, मिजोरम में कांपी धरती

मिजोरम में 4.6 तीव्रता का भूकंप
मिजोरम में 4.6 तीव्रता का भूकंप

भूकंप (Earthquake) चंफाई (Champhai) से दक्षिण दक्षिण-पश्चिम में 25 किलोमीटर पर था. बता दें पिछले 2-3 हफ्तों से मिजोरम (Mizoram) में कई बार लोगों को भूकंप के झटके महसूस हो चुके हैं. इससे पहले मिजोरम के चम्फाई जिले में शुक्रवार दोपहर भी 4.6 की तीव्रता वाला भूकंप आया.

  • Share this:
आईजोल. उत्तर पूर्वी राज्य मिजोरम (Mizoram) में रविवार शाम को भूकंप (Earthquake) के झटके महसूस किये गए. इस भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 4.6 मापी गई. भूकंप चंफाई (Champhai) से दक्षिण-पश्चिम में 25 किलोमीटर पर था. मिजोरम में भूकंप आने के कुछ देर पहले ही गुजरात के कच्छ में 4.2 तीव्रता वाले भूकंप के झटके लगे. इस भूकंप का केंद्र भचाऊ के पास था. वहीं आज तड़के करगिल में 4.7 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किये गए. बता दें पिछले 2-3 हफ्तों से मिजोरम में कई बार लोगों को भूकंप के झटके महसूस हो चुके हैं. इससे पहले मिजोरम के चम्फाई जिले में शुक्रवार दोपहर भी 4.6 की तीव्रता वाला भूकंप आया. पिछले 15 दिनों में राज्य में यह छठा भूकंप था. अधिकारियों ने यह जानकारी दी.

राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र (National Centre for Seismology) के मुताबिक भूकंप दोपहर करीब दो बज कर 35 मिनट पर आया. इसका केंद्र चम्फाई के 52 किमी दक्षिण-दक्षिण पूर्व में था. इसकी गहराई 25 किमी थी. चम्फाई की उपायुक्त मारिया सीटी जुआली ने बताया कि भूकंप से हुई हानि का आकलन अभी नहीं किया जा सका है. क्योंकि कुछ गांवों तक नहीं पहुंचा जा सका है. उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन प्रभावित गांवों से सूचना जुटा रहा है. उन्होंने अन्य अधिकारियों के साथ प्रभावित गांवों का शनिवार को दौरा भी किया.

उल्लेखनीय है कि राज्य के चम्फाई, सैतुअल और सेरछिप जिलों में 18 से 24 जून के बीच सिलसिलेवार भूकंप आये हैं.



ये भी पढ़ें-मिशन वंदे भारतः भारत-अमेरिका के बीच होगा 36 फ्लाइट्स का संचालन
दिल्ली-एनसीआर में भी आया था भूकंप
दिल्ली एनसीआर में भी शुक्रवार को लगभग इतनी ही तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किये गये. दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र सहित उत्तर भारत में शुक्रवार की शाम मध्यम स्तर का भूकंप महसूस किया गया जिसकी तीव्रता 4.7 थी. भूकंप का केंद्र राजस्थान के अलवर जिले में था.

राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र (एनसीएस) के अनुसार, भूकंप शाम सात बजे महसूस किया गया जो 35 किलोमीटर की गहराई पर केंद्रित था. भूकंप के झटके दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में भी महसूस किए गए जिससे लोगों में दहशत फैल गई.

ये भी पढ़ें-जम्मू-कश्मीर: कुलगाम में मारे गए दो हिज्बुल आतंकी पाए गए कोरोना वायरस संक्रमित

बता दें पिछले करीब तीन महीने से देश भर के अलग-अलग हिस्सों में मध्यम या उससे कम तीव्रता के भूकंप आते रहे हैं. अब तक दिल्ली-एनसीआर, गुजरात, महाराष्ट्र, झारखंड, जम्मू कश्मीर, मिजोरम, ओडिशा, छत्तीसगढ़ आदि कई राज्यों में ये भूकंप आए हैं जिसके चलते लोगों के मन में इसे लेकर काफी दहशत भी है. हालांकि इनमें से कहीं भी भूकंप के चलते किसी की मौत की खबर सामने नहीं आई है. भूकंप के चलते गुजरात और मिजोरम में लोगों के घरों की दीवारों में दरारें पड़ गई हैं या वे क्षतिग्रस्त हो गए हैं. इतनी जल्दी-जल्दी आ रहे इन भूकंप के झटकों ने वैज्ञानिकों को भी हैरत में डाल दिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज