लाइव टीवी

कोरोना संकट के बीच असम के कई शहरों में भूकंप के झटके

News18Hindi
Updated: April 6, 2020, 12:02 AM IST
कोरोना संकट के बीच असम के कई शहरों में भूकंप के झटके
असम के कई शहरों में भूकंप के झटके (प्रतीकात्मक तस्वीर)

असम (Assam) में रविवार देर रात भूकंप (Earthquake) के झटके महसूस किए गए. गुवाहटी समेत राज्य के कई शहरों में भूकंप आया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 6, 2020, 12:02 AM IST
  • Share this:
गुवाहाटी. कोरोना वायरस (Coronavirus) के संकट के बीच असम (Assam) में रविवार देर रात भूकंप (Earthquake) के झटके महसूस किए गए. गुवाहटी समेत राज्य के कई शहरों में भूकंप आया. इसकी तीव्रता कितनी थी इसकी जानकारी अभी तक नहीं मिली है.

बताया जा रहा है कि भूकंप के झटके महसूस होने के बाद लोग घरों से बाहर निकल आए. अभी तक किसी भी प्रकार के जान-माल के नुकसान की खबर नहीं है.




जम्मू कश्मीर में कम तीव्रता का भूकंप
इससे पहले शनिवार को जम्मू कश्मीर में कम तीव्रता का भूकंप महसूस किया गया था. रिक्टर पैमाने पर इसकी तीव्रता 4 मापी गई थी. मौसम विभाग के अधिकारियों ने कहा कि झटके सुबह छह बजकर 14 मिनट पर शुरू हुए और कुछ सेकंड तक महसूस किए गए. उन्होंने कहा कि भूकंप 35.5 डिग्री उत्तरी अक्षांश और 74.8 डिग्री पूर्वी देशांतर में 60 किलोमीटर की गहराई पर केंद्रित था.

असम में अब तक कोरोना के 26 केस
बता दें कि असम में अब तक कोरोना वायरस संक्रमण के 26 मामले सामने आए हैं, जिनमें से एक को छोड़कर सभी मामले तबलीगी जमात के कार्यक्रम में हिस्सा लेने वालों से संबंधित हैं. स्वास्थ्य मंत्री हिमंत बिस्व सरमा ने रविवार को एक ट्वीट में कहा, ' निजामुद्दीन मरकज में हुए कार्यक्रम के बाद उत्पन्न हालात के आलोक में हमने शनिवार को गुवाहाटी की लखटकिया मस्जिद के नेताओं से मुलाकात की, जहां तबलीगी जमात का मुख्यालय है और उनसे मरकज के कार्यक्रम में शामिल हुए सभी लोगों की सूची देने की अपील की ताकि उन्हें पृथक वास में रखा जा सके.'

स्वास्थ्य मंत्री ने शनिवार को मस्जिदों के इमाम और अन्य नेताओं से तबलीगी जमात के कार्यक्रम में शामिल होने वाले अपने इलाके के लोगों का नाम सौंपने को कहा और चेतावनी दी कि रविवार तक ऐसा करने में नाकाम रहने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. सरमा ने मस्जिदों पर समन्वय नहीं करने का आरोप लगाते हुए कहा कि हालात बेहद गंभीर हैं इसलिए इस कार्यक्रम में हिस्सा लेने वाले लोग हेल्पलाइन नंबर 104 पर अथवा स्वास्थ्यकर्मियों से संपर्क करें ताकि नमूने लेकर संक्रमण की जांच की जा सके. उन्होंने कहा कि अब तक कुल 1,529 नमूनों की जांच की गई है, जिनमें से 812 का निजामुद्दीन के कार्यक्रम से संबंध है. इस बीच, स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि असम में कांग्रेस के एक विधायक को 28 दिन के लिए पृथक वास में भेजा गया है. विधायक ने दिल्ली स्थित निजामुद्दीन मरकज की यात्रा की थी.

ये भी पढ़ें-
प्रधानमंत्री आवास में भी 9 बजे बंद हुई बत्तियां, राष्ट्रपति कोविंद, PM मोदी समेत कई बड़े नेताओं ने जलाए दीप

PM के आह्वान पर लोगों ने दीये जलाकर कोरोना के खिलाफ दिखाई एकजुटता

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 5, 2020, 11:50 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading