पूर्वी सेना कमांडर नरावने बोले- विवादित LAC पर कम हो रहे भारत-चीन के मतभेद

पूर्वी सेना के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल एमएम नरावने ने कहा कि नियंत्रण रेखा (एलएसी) के मुद्दे के समाधान पर चीन से बातचीत सही दिशा में बढ़ रही है जहां हर चरण की वार्ता के बाद मतभेद कम होते जा रहे हैं.

भाषा
Updated: July 26, 2019, 6:18 PM IST
पूर्वी सेना कमांडर नरावने बोले- विवादित LAC पर कम हो रहे भारत-चीन के मतभेद
पूर्वी सेना के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल एमएम नरावने (फाइल फोटो)
भाषा
Updated: July 26, 2019, 6:18 PM IST
पूर्वी सेना के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल एमएम नरावने ने शुक्रवार को कहा कि ‘विवादित’ वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के मुद्दे के समाधान पर चीन से बातचीत सही दिशा में बढ़ रही है जहां हर चरण की वार्ता के बाद मतभेद कम होते जा रहे हैं. हालांकि पूर्वी कमान के जनरल ऑफिसर कमांडिग इन चीफ ने यह भी कहा कि इस वक्त मुद्दे के हल के लिए समय सीमा तय करना मुश्किल होगा.

उन्होंने कहा, ‘विवादित वास्तविक नियंत्रण रेखा के मुद्दे पर हर चरण की वार्ता के साथ मतभेद कम होते गए. उम्मीद है कि हमारे हित एक बिंदु पर पहुंचेंगे और हम औपचारिक तौर पर एक समझौते पर हस्ताक्षर कर पाएंगे.’

सेना के उपप्रमुख नियुक्त किए गए नरावने ने जब यह पूछा गया कि वार्ता किस चरण में पहुंच गयी है, तब उन्होंने कहा, ‘हम बातचीत के 23वें या 24वें चरण में हैं, इस संबंध में कोई समय-सीमा तय करना मुश्किल होगा. जितनी जल्द मुद्दा (एलएससी) सुलझ जाएगा उतनी जल्दी ये दो बड़े एशियाई पड़ोसी इन बाधाओं से आगे निकलकर प्रगति की राह पर बढ़ पाएंगे.’

'पड़ोसी अगर शांति बनाए रखें तो सबके लिए ठीक'

पाकिस्तान के खिलाफ करगिल युद्ध में मिली विजय की 20वीं वर्षगांठ पर उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘पश्चिम के हमारे पड़ोसी के साथ ही उत्तर के हमारे पड़ोसी के साथ अगर शांति बनी रहती है तो दोनों पक्ष के लोग उज्ज्वल भविष्य की कामना कर सकेंगे.’

इन राज्यों से गुजरती है वास्तविक नियंत्रण रेखा
बता दें कि चीन के साथ लगने वाली वास्तविक नियंत्रण रेखा जम्मू-कश्मीर, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, सिक्किम और अरुणाचल प्रदेश से होकर गुजरती है.
First published: July 26, 2019, 6:15 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...