अपना शहर चुनें

States

इंटरस्‍टेट ट्रांसपोर्ट की तरह अब पड़ोसी देशों में चल सकेंगी बसें

इंटरस्‍टेट ट्रांसपोर्ट (Interstate Transport) की तरह अब पड़ोसी देशों में पैसेंजर  Passenger और गुड्स Goods वाहन चल सकेंगे. सड़क परिवहन मंत्रालय (Ministry of Road Transport and Highway) ने नोटिफिकेशन जारी कर दिया है.
इंटरस्‍टेट ट्रांसपोर्ट (Interstate Transport) की तरह अब पड़ोसी देशों में पैसेंजर Passenger और गुड्स Goods वाहन चल सकेंगे. सड़क परिवहन मंत्रालय (Ministry of Road Transport and Highway) ने नोटिफिकेशन जारी कर दिया है.

इंटरस्‍टेट ट्रांसपोर्ट (Interstate Transport) की तरह अब पड़ोसी देशों में पैसेंजर Passenger और गुड्स Goods वाहन चल सकेंगे. सड़क परिवहन मंत्रालय (Ministry of Road Transport and Highway) ने नोटिफिकेशन जारी कर दिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 19, 2021, 11:49 AM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. इंटरस्‍टेट ट्रांसपोर्ट (Interstate Transport) की तरह अब पड़ोसी देशों में पैसेंजर  Passenger और गुड्स Goods वाहन चल सकेंगे. सड़क परिवहन मंत्रालय (Ministry of Road Transport and Highway) ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिया है, जो तत्‍काल प्रभावी हो गया है. अब वाहन चलाने से पूर्व दोनों देशों को केवल एक एमओयू साइन करना होगा. मंत्रालय ने यह फैसला लगातार मिल रहे सुझाव के आधार पर लिया है.अभी तक पड़ोसी देशों neighbouring countries

में वाहन (Vehicle) चलाने से पूर्व कई तरह औपचारिकताएं पूरी करनी होती थीं. इसके तहत कई  मंत्रालयों और विभागों क्‍लीयरेंस लेनी होती थी, जिसमें समय लगता था और कागजी कार्रवाई भी अधिक होती थी. इस संबंध में सड़क परिवहन मंत्रालय (Ministry of Road Transport and Highway) के पास सुझाव आ रहे थे.  नए नियम के बाद अब किसी पड़ोसी देश में ट्रांसपोर्ट शुरू करना हो, तो दोनों देश आपस में एमओयू (MOU) साइन कर तुरंत वाहन चला सकेंगे. सड़क परिवहन मंत्रालय ने पिछले सप्‍ताह नोटिफिकेशन जारी कर चुका है. इस संबंध में बस एंड कार ऑपरेटर्स कंफडरेशन ऑफ इंडिया के अध्‍यक्ष गुरमीत सिंह तनेजा ने कहा क‍ि सरकार के इस फैसले से काफी राहत मिलेगी.अभी जिस तरह एक प्रदेश से दूसरे प्रदेश बसों का संचालन होता है. इसमें केवल दो प्रदेश के बीच सहमत‍ि  की जरूरत होती है, भविष्‍य में पड़ोसी देशों के बीच भी बसों का संचालन भी इसी तरह हो सकेगा.

पड़ोसी देशों में चल चुकी हैं बस



नई दिल्‍ली और लाहौर वर्ष 2000 में
कोलकाता और ढाका वर्ष 2000 में

अमृतसर और लाहौर वर्ष 2006 में

अमृतसर और नानकसर वर्ष 2006 में
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज