बड़ी कार्रवाई: भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी की 329 करोड़ की संपत्ति जब्त

बड़ी कार्रवाई: भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी की 329 करोड़ की संपत्ति जब्त
नीरव मोदी की संपत्ति पर ईडी ने बड़ी कार्रवाई की है. (फाइल फोटो)

प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate-ED) ने बताया है कि भगोड़े आर्थिक अपराध अधिनियम के तहत नीरव मोदी (Nirav Modi) की 326.99 करोड़ की संपत्ति जब्त कर ली गई है. जून के शुरुआती हफ्ते में पीएमएलए कोर्ट ने आदेश दिया था कि नीरव मोदी की सभी संपत्तियां जब्‍त कर ली जाएं.

  • Share this:
नई दिल्ली. भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी (Nirav Modi) पर प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate-ED) ने बड़ी कार्रवाई की है. प्रवर्तन निदेशालय ने बताया है कि भगोड़े आर्थिक अपराध अधिनियम के तहत नीरव मोदी की 329.66 करोड़ की संपत्ति जब्त कर ली गई है. गौरतलब है कि जून के शुरुआती हफ्ते में पीएमएलए कोर्ट ने आदेश दिया था कि नीरव मोदी की सभी संपत्तियां जब्‍त कर ली जाएं. इस आदेश के बाद अब नीरव की सभी संपत्तियों पर भारत सरकार का अधिकार हो गया है.

ये संपत्ति हुई है जब्त
प्रवर्तन निदेशालय ने बताया है कि नीरव मोदी की जब्त की गई संपत्तियों में मुंबई में चार फ्लैट, अलीबाग में जमीन, एक फार्महाउस, लंदन में फ्लैट, यूएई में फ्लैट, जैसलमेर में एक पवन चक्की समेत बैंकों में जमा पैसे और शेयर शामिल हैं. कहा जा रहा है कि ईडी की इस बड़ी कार्रवाई की वजह से नीरव मोदी को बहुत बड़ा नुकसान हुआ है. हालांकि इससे पहले भी ईडी की तरफ से नीरव मोदी पर जब्ती की कार्रवाई की जा चुकी है.





मार्च महीने में हुई थी नीलामी
मार्च, 2020 में हुई उसकी संपत्तियों की नीलामी से 51 करोड़ रुपये प्राप्‍त हुए थे. इन संपत्तियों को ईडी ने ही जब्‍त किया था. नीलाम (Auction) की गई संपत्तियों में रॉल्स रॉयस कार, एमएफ हुसैन और अमृता शेर-गिल की पेटिंग्स और डिजाइनर हैंडबैग शामिल थे. इससे पहले सैफरनआर्ट ने नीरव मोदी के मालिकाना हक वाली कुछ कलाकृतियों की मार्च 2019 में नीलामी की थी, इससे 55 करोड़ रुपये जुटाए गए थे.



ये भी पढ़ें-वैक्सीन नहीं मिली तो भारत में 2021 में रोजाना आ सकते हैं 2.87 लाख कोरोना केस

14 हजार करोड़ से अधिक की धोखाधड़ी का मामला
नीरव मोदी पर पंजाब नेशनल बैंक (PNB) के साथ 14,000 करोड़ रुपये से अधिक की धोखाधड़ी (Fraud) का आरोप है. नीरव मोदी देश से फरार है और इस समय लंदन (London) की एक जेल में कैद है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading