कांग्रेस नेता शिवकुमार को कोर्ट ने 17 सितंबर तक ED की हिरासत में भेजा

आयकर विभाग की चार्जशीट के अनुसार इसके अनुसार, डीके शिवकुमार (DK shivkumar) की ओर से कांग्रेस को 5 करोड़ रुपए दिए गए थे. ईडी की जांच में सामने आया है कि उनके कहने पर वी मुलगुंड ने कांग्रेस को 5 करोड़ रुपए की बड़ी रकम दी थी.

News18Hindi
Updated: September 13, 2019, 6:30 PM IST
कांग्रेस नेता शिवकुमार को कोर्ट ने 17 सितंबर तक ED की हिरासत में भेजा
डीके शिवकुमार अभी ईडी की कस्‍टडी में हैं.
News18Hindi
Updated: September 13, 2019, 6:30 PM IST
नई दिल्‍ली: मनी लॉन्‍ड्रिंग के एक मामले में कर्नाटक (karnataka) कांग्रेस के बड़े नेता डीके शिवकुमार (DK shivkumar) को कोर्ट ने 17 सितंबर तक ईडी (ED) की हिरासत में भेज दिया है. हालांकि अदालत ने ईडी को आदेश दिया है कि शिवकुमार की मेडिकल ज़रूरतों का भी ख़याल रखा जाए. ईडी को सोमवार तक जवाब देना होगा कि शिवकुमार को जमानत क्यों नहीं दे दी जाए.

उधर ईडी जहां शिवकुमार के खिलाफ हर रोज नए दावे कर रही है तो वह उसे गलत करार दे रहे हैं. अब ईडी का दावा है कि डीके शिवकुमार के 300 बैंक खाते हैं. वहीं शिवकुमार का कहना है कि उनके सिर्फ 5 बैंक खाते हैं.  उन्‍होंने ईडी पर निशाना साधते हुए कहा, ईडी मुझे हॉस्‍पिटल में भी नहीं रहने दे रही. वह मुझे आधी रात को हॉस्‍पिटल से पुलिस थाने लेकर आ गई.

डीके शिवकुमार की रिमांड का आदेश


वहीं इस मामले में आईटी की चार्जशीट में एक और खुलासा हुआ है. इसके अनुसार, डीके शिवकुमार की ओर से कांग्रेस को 5 करोड़ रुपए दिए गए थे. ईडी की जांच में सामने आया है कि उनके कहने पर वी मुलगुंड ने कांग्रेस को 5 करोड़ रुपए की बड़ी रकम दी थी. ये पैसे दो बार में दिए गए थे. 3 करोड़ रुपए का पहला ट्रांजेक्‍शन 5 जनवरी 2017 को हुआ था. वहीं 2 करोड़ रुपए का दूसरा ट्रांजेक्‍शन 9 जनवरी 2017 को हुआ था.

वी मुलगुंड ने डीके शिवकुमार के कहने पर कांग्रेस को ट्रांसफर किया पैसा
इंडिया टुडे के अनुसार, दोनों बार ये पैसा वी मुलगुंड ने डीके शिवकुमार के कहने पर कांग्रेस को ट्रांसफर किया था. बता दें कि डीके शिवकुमार को कांग्रेस का संकटमोचक माना जाता है. पिछले साल हुए कर्नाटक चुनाव के बाद जब किसी दल को बहुमत नहीं मिला था तब उन्‍होंने ही अपने कौशल से कांग्रेस विधायकों को दूसरे पाले में जाने से रोका था.

अपने खिलाफ हुई इस कार्रवाई पर डी.के. शिवकुमार ने कहा, ''मैंने कुछ गलत नहीं किया. मैं सिर्फ बदले की राजनीति का शिकार हूं.'' बता दें कि शिवकुमार इस समय ईडी की हिरासत में हैं. ईडी ने शिवकुमार से चार दिनों तक पूछताछ करने के बाद उन्हें तीन सितंबर को गिरफ्तार किया था. गिरफ्तार करने से पहले ईडी ने उन पर आरोप लगाया कि वह जांच में सहयोग नहीं कर रहे हैं.
Loading...

सिंंघवी बोले- सहयोग कर रहे हैंं शिवकुमार
उधर, कांग्रेस नेता और डीके शिवकुमार के वकील अभिषेक मनु सिंघवी का कहना है कि शिवकुमार जांच में सहयोग कर रहे हैं. शिवकुमार ईडी के बुलाने पर पूछताछ के लिए भी आए हैं. सिंघवी ने कहा, 'ईडी की रिकवरी सिर्फ़ 41 लाख की है. ईडी कर्नाटक सरकार की प्रापर्टी भी शिवकुमार की बता रही है. 13 दिन में 130 घंटे पूंछताछ की है. तीनों की प्रॉपर्टीज़ अलग हैं सब अलग आईटीआर फ़ाइल करते हैं​'

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 13, 2019, 5:38 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...