Home /News /nation /

अपनी इन खासियतों से दुनिया में भारतीय रेलवे है सबसे अनूठा और अलग

अपनी इन खासियतों से दुनिया में भारतीय रेलवे है सबसे अनूठा और अलग

भारत में पहली रेल 18वीं शताब्दीग के मध्य में यानी की 1853 में अंग्रेजों ने अपनी प्राशासनिक सुविधा के लिए की थी। भारत में पहली रेल महाराष्ट्र में मुंबई से ठाणे के बीच चली थी।

भारत में पहली रेल 18वीं शताब्दीग के मध्य में यानी की 1853 में अंग्रेजों ने अपनी प्राशासनिक सुविधा के लिए की थी। भारत में पहली रेल महाराष्ट्र में मुंबई से ठाणे के बीच चली थी।

भारत में पहली रेल 18वीं शताब्दीग के मध्य में यानी की 1853 में अंग्रेजों ने अपनी प्राशासनिक सुविधा के लिए की थी। भारत में पहली रेल महाराष्ट्र में मुंबई से ठाणे के बीच चली थी।

    नई दिल्ली। भारत में पहली रेल 18वीं शताब्दी के मध्य में चली थी, यानी की 1853 में। यह शुरुआत अंग्रेजों ने अपनी प्राशासनिक सुविधा के लिए की थी। देश में यह पहली रेल महाराष्ट्र में मुंबई से ठाणे के बीच चली थी।आज भारतीय रेल 150 साल से ज्यादा पुरानी हो चुकी है।

    आइए आपको बताते हैं भारतीय रेलवे की 8 सबसे महत्वपूर्ण बातें, जो इस रेल नेटवर्क को पूरी दुनिया में सबसे अलग बनाती हैं।

    -भारतीय रेल (आईआर) एशिया का सबसे बड़ा रेल नेटवर्क है तथा एकल प्रबंधनाधीन यह विश्व का दूसरा सबसे बड़ा रेल नेटवर्क है।

    -यह विश्व का सबसे बड़ा नियोक्ता है, इसके 16 लाख से भी अधिक कर्मचारी हैं।

    -भारत में पहली ट्रेन मुंबई में ठाणे तक (34 कि॰मी॰ की दूरी) की दूरी तय की थी, अब भारतीय रेल विशाल नेटवर्क में विकसित हो चुका है।

    -भारतीय रेल में 115,000 कि.मी मार्ग की लंबाई पर 7,172 स्टेशन फैले हुए हैं।

    -भारतीय रेल बहुल गेज प्रणाली है; जिसमें चौड़ी गेज (1.676 मि मी) मीटर गेज (1.000 मि मी); और पतली गेज (0.762 मि मी. और 610 मि. मी) है।

    -भारतीय रेल के दो मुख्यज खंड हैं- भाड़ा/माल वाहन और सवारी। भाड़ा खंड लगभग दो तिहाई राजस्व जुटाता है, जबकि शेष सवारी यातायात से आता है।

    -भारतीय रेलवे तकरीबन 17 खंडों में विभाजित है।

    -भारतीय रेल पूरे देश को जोड़ती है। राष्ट्रीय आपात स्थिति के दौरान आपदा ग्रस्त क्षेत्रों में राहत सामग्री पहुंचाने में भारतीय रेलवे अग्रणी रहा है।

    Tags: Budget 2016, Indian railway

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर