तमिलनाडु: AIDMK में नेतृत्व विवाद खत्म, विधानसभा चुनाव में पलानीस्वामी होंगे CM प्रत्याशी

मुख्यमंत्री पलानीस्वामी ही तमिलनाडु विधानसभा चुनाव में AIDMK के सीएम कैंडिडेट होंगे.  (फाइल फोटो)
मुख्यमंत्री पलानीस्वामी ही तमिलनाडु विधानसभा चुनाव में AIDMK के सीएम कैंडिडेट होंगे. (फाइल फोटो)

नेतृत्व के मुद्दे को लेकर के. पलानीस्वामी (Edappadi K Palaniswami) और उपमुख्यमंत्री ओ. पनीरसेल्वम (O. Paneerselvam) के बीच चल रहे मतभेद से उपजा संकट बुधवार को समाप्त हो गया. तमिलनाडु में अगले साल अप्रैल-मई में विधानसभा चुनाव होने हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 7, 2020, 6:05 PM IST
  • Share this:
चेन्नई. तमिलनाडु के मौजूदा मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी (Edappadi K Palaniswami) को 2021 के राज्य विधानसभा चुनाव के लिए अन्नाद्रमुक (AIADMK) ने मुख्यमंत्री पद का अपना उम्मीदवार नामित किया है. इस तरह, नेतृत्व के मुद्दे को लेकर उनके और उप मुख्यमंत्री ओ पनीरसेल्वम (O. Paneerselvam) के बीच चल रहे मतभेद से उपजा संकट बुधवार को समाप्त हो गया. तमिलनाडु में अगले साल अप्रैल-मई में विधानसभा चुनाव होने हैं.

पलानीस्वामी ने मानी पनीरसेल्वम की मांग
पलानीस्वामी ने पनीरसेल्वम की काफी समय से लंबित मांग को स्वीकार करते हुए 11 सदस्यीय एक संचालन समिति के गठन की घोषणा की. इसमें मंत्री डिंडीगुल सी श्रीनिवासन, पी थंगामणि और एसपी वेलुमणि शामिल हैं. पनीरसेल्वम ने पलानीस्वामी और अन्य वरिष्ठ नेताओं के साथ पार्टी मुख्यालय में संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘मुझे यह घोषणा करते हुए प्रसन्नता हो रही है कि हमारे प्रिय भाई पलानीस्वामी 2021 विधानसभा चुनाव में अन्नाद्रमुक के मुख्यमंत्री पद के विजयी उम्मीदवार होंगे.’

पनीरसेल्वम ने की घोषणा
उन्होंने जोरदार तालियों के बीच बताया कि पार्टी के अध्यक्ष मंडल के अध्यक्ष ई मधुसूदन के नेतृत्व में विचार-विमर्श के बाद सर्वसम्मति से यह फैसला किया गया. उन्होंने कहा कि उनके अलावा पलानीस्वामी, पार्टी उप समन्वयक के पी मुनुसामी, आर वैथीलिंगम और संचालन समिति के सदस्यों ने पलानीस्वामी को उम्मीदवार बनाने का सर्वसम्मति से फैसला किया. पलानीस्वमी ने कहा कि समति का गठन अन्नाद्रमुक आम परिषद के प्रस्ताव के अनुरूप होगा.



बाद में मत्स्य पालन मंत्री डी. जयकुमार ने संवाददाताओं से कहा कि मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार का चयन और समिति के गठन का फैसला परामर्श एवं आम सहमति पर आधारित है. उल्लेखनीय है कि अगले मुख्यमंत्री के लिए उम्मीदवार और समति गठित किये जाने के मुद्दे पर 28 सितंबर को अन्नाद्रमुक कार्यकारी समिति की बैठक में पलानीस्वामी और पनीरसेल्वम के बीच कहा-सुनी हो गई थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज