Assembly Banner 2021

पश्चिम बंगाल में चौथे चरण के लिए प्रचार समाप्त, कई हाईप्रोफाइल हस्तियों की किस्मत दांव पर

बीजेपी और टीएमसी के बीच कड़ी लड़ाई है. (फाइल फोटो)

बीजेपी और टीएमसी के बीच कड़ी लड़ाई है. (फाइल फोटो)

इस चरण में अपनी किस्मत आजमा रहे प्रत्याशियों में बंगाल रणजी के पूर्व कप्तान मनोज तिवारी (Manoj Tiwary) और राज्य के शिक्षा मंत्री और बेहला पश्चिम सीट से वर्तमान विधायक पार्थ चटर्जी शामिल हैं. इसके अलावा टॉलीगंज सीट पर भाजपा के केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो (Babul Supriyo) का मुकाबला राज्य के खेल मंत्री अरूप बिस्वास से है.

  • Share this:
कोलकाता. पश्चिम बंगाल (West Bengal) में चौथे चरण (4th Phase) में पांच जिलों की 44 विधानसभा सीटों के लिए प्रचार अभियान (Election Campaign) बृहस्पतिवार शाम पांच बजे समाप्त हो गया. इन सीटों पर 10 अप्रैल को मतदान होगा. दक्षिण बंगाल के हावड़ा (भाग दो), दक्षिण 24 परगना (भाग तीन), हुगली (भाग दो) और उत्तर बंगाल के अलीपुरद्वार तथा कूचबिहार में शनिवार को होने वाले चुनाव में 1,15,81,022 मतदाता 373 उम्मीदवारों के भविष्य का फैसला करेंगे.

कुल मतदाताओं में 58,82,514 पुरुष, 56,98,218 महिलाएं और ‘थर्ड जेंडर’ के 290 सदस्य शामिल हैं. मतदान सुबह सात बजे से शाम साढ़े छह बजे तक होगा. इन सीटों पर 15,940 मतदान केंद्रों पर वोट पड़ेंगे. इस चरण में हावड़ा की नौ, दक्षिण 24 परगना की 11, अलीपुरद्वार की पांच, कूचबिहार की नौ और हुगली की 10 सीटों पर मतदान होगा.

ये नेता लड़ रहे हैं चुनाव
इस चरण में अपनी किस्मत आजमा रहे प्रत्याशियों में बंगाल रणजी के पूर्व कप्तान मनोज तिवारी (शिबपुर सीट, तृणमूल कांग्रेस) और राज्य के शिक्षा मंत्री और बेहला पश्चिम सीट से वर्तमान विधायक पार्थ चटर्जी शामिल हैं. इसके अलावा टॉलीगंज सीट पर भाजपा के केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो का मुकाबला राज्य के खेल मंत्री अरूप बिस्वास से है.
बेहला पूर्व सीट पर भाजपा की उम्मीदवार पायल सरकार का मुकाबला रत्ना चटर्जी से है जो शहर के पूर्व महापौर और अग्निशमन मंत्री शोभन चटर्जी की पत्नी हैं. राज्य के पूर्व वन मंत्री राजीव बनर्जी हाल ही में भाजपा में शामिल हुए हैं और वह दोमजुर सीट पर चुनाव लड़ रहे हैं. हुगली के चिन्सुराह सीट पर भाजपा सांसद और अभिनेत्री लॉकेट चटर्जी चुनावी मैदान में हैं.



कूचबिहार में सबसे ज्यादा 187 कंपनियां तैनात की जाएंगी
चौथे चरण की 44 सीटों पर संवेदनशील स्थिति को देखते हुए निर्वाचन आयोग ने सीएपीएफ की कम से कम 789 कंपनियां तैनात करने का निर्णय लिया है. कूचबिहार में सबसे ज्यादा 187 कंपनियां तैनात की जाएंगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज