Assembly Banner 2021

चुनाव आयोग ने BJP नेता शुभेंदु अधिकारी को भेजा नोटिस, 24 घंटे में मांगा जवाब

चुनाव आयोग ने शुभेंदु अधिकारी के भाषण में सांप्रदायिक लहजा होने को लेकर नोटिस दिया

चुनाव आयोग ने शुभेंदु अधिकारी के भाषण में सांप्रदायिक लहजा होने को लेकर नोटिस दिया

EC issues notice to Suvendu Adhikari: चुनाव आयोग के नोटिस में कहा गया है कि कविता कृष्णन की तरफ से शिकायत आई है जिसमें आरोप लगाया है कि अधिकारी ने नंदीग्राम में एक जनसभा को संबोधित करने के दौरान 'नफरत भरा भाषण' दिया.

  • Share this:
नई दिल्ली. चुनाव आयोग (Election Commission) ने पश्चिम बंगाल (West Bengal) के भाजपा नेता शुभेंदु अधिकारी द्वारा पिछले महीने दिए एक भाषण में कथित तौर पर सांप्रदायिक लहजा होने को लेकर गुरुवार को उन्हें नोटिस जारी किया. उनसे 24 घंटे के भीतर नोटिस का जवाब देने के लिए कहा गया है.

अधिकारी पश्चिम बंगाल की नंदीग्राम विधानसभा सीट पर मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी के खिलाफ भाजपा उम्मीदवार भी हैं. चुनाव आयोग के नोटिस में कहा गया है कि भाकपा (माले) की केंद्रीय समिति की सदस्य कविता कृष्णन की तरफ से शिकायत आई है जिसमें आरोप लगाया है कि 29 मार्च को अधिकारी ने नंदीग्राम में एक जनसभा को संबोधित करने के दौरान 'नफरत भरा भाषण' दिया.

इन दो प्रावधानों के आधार पर भेजा गया नोटिस
आयोग ने आदर्श आचार संहित के दो प्रावधानों का हवाला दिया. एक प्रावधान में कहा गया है कि दूसरे राजनीतिक दलों की आलोचना उनकी नीतियों और कार्यक्रमों, अतीत के रिकॉर्ड और काम तक सीमित होगी. दूसरों दलों या उनके कार्यकर्ताओं की आलोचना असत्यापित आरोपों या मनगढ़ंत आरोपों के आधार पर करने से बचा जाएगा. दूसरे प्रावधान में स्पष्ट है कि वोट हासिल करने के लिए जाति या सांप्रदाय के आधार कोई अपील नहीं की जाएगी. नोटिस में कहा गया है कि चुनाव आयोग ने पाया है कि आदर्श आचार संहिता के कुछ प्रावधानों का उल्लंघन हुआ है.
(Disclaimer: यह खबर सीधे सिंडीकेट फीड से पब्लिश हुई है. इसे News18Hindi टीम ने संपादित नहीं किया है.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज