अब आपके वोटर VOTER ID का भी होगा वैरिफिकेशन! चुनाव आयोग आज से करेगा शुरू

News18Hindi
Updated: September 1, 2019, 10:59 AM IST
अब आपके वोटर VOTER ID का भी होगा वैरिफिकेशन! चुनाव आयोग आज से करेगा शुरू
अब होगा वोटर आईडी कार्ड का वैरिफिकेशन! चुनाव आयोग 1 सितंबर से करेगा शुरू

चुनाव आयोग (Election Commission) 1 सितंबर से विशेष अभियान की शुरुआत कर रहा है. इसके तहत आपको राशन कार्ड (Ration Card) के बाद वोटर आईडी का वैरिफिकेशन (Voter ID Verification) होगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 1, 2019, 10:59 AM IST
  • Share this:
चुनाव आयोग (Election Commission) 1 सितंबर से विशेष अभियान की शुरुआत कर रहा है. इसके तहत आपको राशन कार्ड (Ration Card) के बाद वोटर आईडी का वैरिफिकेशन (Voter ID Verification) होगा. निकाय और पंचायत चुनाव से पहले इस बार मतदाताओं को अपने वोटर आईडी कार्ड का भी वैरिफिकेशन होगा. निर्वाचन आयोग 1 सितंबर से इसकी शुरुआत करेगा. आपको बता दें कि अब कोई भी व्यक्ति घर बैठे इस बात की जांच कर सकता है कि उसके परिवार के कितने सदस्यों के नाम सूची में दर्ज हैं. उनके नाम की इंट्री सही तरह से हुई है या नहीं. इस नए अभियान के तहत सभी मतदाता, सूची में दर्ज मतदाताओं की व्यक्तिगत जानकारियों को डिजिटल कर दिया गया है.

आप घर बैठे कर पाएंगे  वैरिफिकेशन- चुनाव आयोग का कहना है कि हर घर तक बीएलओ वैरिफिकेशन और  नए नाम जोड़ने के लिए पहुंचेंगे. इसके अलावा आयोग की वेबसाईट में ऑनलाइन वैरिफिकेशन का भी आवेदन कर सकते हैं. इस संबंध में अधिक जानकारी के लिए टोल फ्री नंबर-1950 पर कॉल कर ले सकते हैं. वैरिफिकेशन के लिए पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, आधार कार्ड, राशनकार्ड, सरकारी या अर्धसरकारी पहचान पत्र, बैंक पासबुक, किसान पहचान पत्र प्रस्तुत करना होगा.

ये भी पढ़ें-कहां बसते हैं दुनिया में सबसे ज्यादा अमीर अरबपति

क्या करना होगा- सूची और नामों की जांच के लिए मतदाताओं को गूगल प्ले स्टोर से nvsp.in.voter helpline मोबाइल एप डाउनलोड करना होगा.



>> इस ऐप में दिए निर्देशों के आधार पर मतदाता सूची की जांच की जा सकती है. इसके अलावा दिव्यांग मतदाता जिला संपर्क केंद्र और हेल्पलाइन नंबर 1950 से भी मतदाता सूची का वैरिफिकेशन कर सकते हैं.

>> आम लोग वैरिफिकेशन के लिए पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, आधार कार्ड, राशन कार्ड, सरकारी अथवा अर्धशासकीय पहचान पत्र, बैंक पासबुक, किसान पहचान पत्र आदि का उपयोग भी कर सकते हैं.
Loading...

>> मतदाता वैरिफिकेशन के तहत वोटरों को आधारभूत जानकारियों को वेरिफाई किया जाएगा. इसमें वोटर अपने परिवार के सदस्यों की जानकारियों का भी वैरिफिकेशन करवा सकेंगे.

>> पोलिंग बूथ के जीआईएस मैपिंग के काम भी इस दौरान किया जाएगा. मौजूदा मतदाताओं के संपर्क नंबर जुटाने के साथ भावी वोटरों की जानकारी भी जुटाई जाएगी.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 1, 2019, 5:39 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...