लाइव टीवी

यूरोपीय नेताओं के जम्मू-कश्मीर दौरे पर बोलीं प्रियंका : 'यह बड़ा अनोखा राष्ट्रवाद है'

News18Hindi
Updated: October 29, 2019, 12:55 PM IST
यूरोपीय नेताओं के जम्मू-कश्मीर दौरे पर बोलीं प्रियंका : 'यह बड़ा अनोखा राष्ट्रवाद है'
प्रियंका गांधी वाड्रा ने ट्वीट कर भाजपा पर कसा तंज

प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) ने ट्वीट कर कहा कि भारतीय सांसदों को रोकना और विदेशी नेताओं को वहां जाने की अनुमति देना बड़ा ही अनोखा राष्ट्रवाद है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 29, 2019, 12:55 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. यूरोपीय सांसदों (European MPs) के एक प्रतिनिधिमंडल के जम्मू-कश्मीर (Jammu-kashmir) दौरे को लेकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) ने मंगलवार को नरेंद्र मोदी सरकार पर कटाक्ष करते हुए कहा कि भारतीय सांसदों को रोकना और विदेशी नेताओं को वहां जाने की अनुमति देना बड़ा ही अनोखा राष्ट्रवाद है.

उन्होंने ट्वीट कर कहा कि कश्मीर में यूरोपीय सांसदों को सैर-सपाटा और हस्तक्षेप की इजाजत.... लेकिन भारतीय सांसदों और नेताओं को पहुँचते ही हवाई अड्डे से वापस भेजा गया ! यह बड़ा अनोखा राष्ट्रवाद है.'


Loading...

यूरोपीय संघ (European Union) के 27 सांसदों का प्रतिनिधिमंडल मंगलवार को जम्मू-कश्मीर का दौरा कर रहा है. यह शिष्टमंडल जम्मू कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को हटाए जाने के बाद वहां की स्थिति का आकलन करेगा. ये सांसद जम्मू-कश्मीर के स्थानीय लोगों से बातचीत कर उनके अनुभव जानना चाहते हैं.

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी जम्मू और कश्मीर के दौरे पर कहा कि यूरोप के सांसदों का स्वागत किया जाता है, जबकि भारतीय सांसदों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया जाता है. इसमें बहुत कुछ गलत है.

यूरोपीय सांसदों के कश्मीर दौरे पर कई कांग्रेस नेता भाजपा सरकार को घेरने की कोशिश की है. कांग्रेस नेता और गृह मामलों की संसदीय स्थायी समिति (आरएस) के अध्यक्ष आनंद शर्मा ने कहा कि यह भारतीय संसद की संप्रभुता का अपमान है. सरकार को जवाब देना चाहिए कि उसने संसदीय विशेषाधिकारों का उल्लंघन क्यों किया, समिति को इस बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई.

आपको बता दें कि यूरोपीय संघ (EU) के सांसदों का एक प्रतिनिधिमंडल कश्‍मीर का दौरा करने जा रहा है. हालांकि विपक्ष ने इसे लेकर सवाल किए हैं और सरकार से जवाब मांगा है कि जब उन्‍हें कश्‍मीर का दौरा करने की अनुमति नहीं दी गई तो विदेशी नेताओं को इसकी अनुमति क्‍यों दी गई है? उन्‍होंने सरकार के इस 'दोहरे' रवैये को देश की संसद की संप्रभुता का उल्‍लंघन भी बताया.

ये भी पढ़ें : कश्मीर को लेकर बड़ा बदलाव दिखा रहा है यूरोपीय सांसदों का ये दौरा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 29, 2019, 12:55 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...