इवांका के वीडियो से मिले सबूत, मोदी-ट्रंप में नहीं हुई थी कश्‍मीर मुद्दे पर बात

दरअसल, डोनाल्‍ड ट्रंप ने इमरान खान से मुलाकात के बाद जारी बयान में कहा था कि कश्‍मीर मुद्दे पर दो हफ्ते पहले उनकी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बात हुई थी.

News18Hindi
Updated: July 23, 2019, 5:13 PM IST
इवांका के वीडियो से मिले सबूत, मोदी-ट्रंप में नहीं हुई थी कश्‍मीर मुद्दे पर बात
ट्रंप के इस बयान ने अब भारत की राजनीति में हलचल मचा दी है. इसको लेकर संसद में जमकर विवाद हो रहा है. (फाइल फोटो)
News18Hindi
Updated: July 23, 2019, 5:13 PM IST
व्‍हाइट हाउस में रविवार देर शाम इमरान खान और डोनाल्‍ड ट्रंप के बीच मुलाकात में कश्‍मीर विवाद पर भी बातचीत हुई. उसके बाद ट्रंप ने बयान जारी करके कश्‍मीर मुद्दे पर मध्‍यस्‍थता करने की बात की थी. ट्रंप के इस बयान ने अब भारत की राजनीति में हलचल मचा दी है. इसको लेकर संसद में जमकर विवाद हो रहा है. विपक्ष प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सफाई मांग रहा है.

दरअसल, डोनाल्‍ड ट्रंप ने इमरान खान से मुलाकात के बाद जारी बयान में कहा था कि कश्‍मीर मुद्दे पर दो हफ्ते पहले उनकी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बात हुई थी. उन्‍होंने कहा था कि जी-20 समिट के दौरान उन लोगों की बातचीत हुई थी. हालांकि इस मुद्दे पर भारत ने जिस तरीके से जवाब दिया है, उससे अमेरिका बैकफुट पर आ गया है. हालांकि सूत्रों की मानें तो ओसाका की उस मुलाकात में ट्रंप और पीएम मोदी के बीच कश्‍मीर मुद्दे पर कोई बातचीत नहीं हुई थी.

भारत और अमेरिका के सूत्रों का दावा है कि ओसाका में कश्‍मीर मुद्दे पर मोदी-ट्रंप की कोई बातचीत नहीं हुई थी. अगर बातचीत नहीं हुई तो डोनाल्‍ड ट्रंप का दावा गलत साबित हो सकता है. बता दें कि ओसाका में पीए मोदी और ट्रंप के बीच की बैठक की राउंड-अप जानकारी इवांका ट्रंप ने वीडियो जारी करके दी थी.

वीडियो में खुलासा

डोनाल्‍ड ट्रंप की बेटी इवांका ट्रंप व्हाइट हाउस में उनकी एडवाइज़र भी हैं. उस दौरान इवांका ने कहा था कि प्रधानमंत्री मोदी और डानाल्‍ड ट्रंप के बीच 5G, राष्ट्रीय सुरक्षा, ट्रेड और ईरान को लेकर चर्चा हुई. उस वक्‍त भारत और अमेरिका के बीच टैरिफ वॉर का मुद्दा गर्माया था. और उस बैठक का मुख्‍य एजेंडा भी वही था. कहीं भी कश्‍मीर मुद्दे पर बातचीत के सबूत नहीं हैं.

इस मामले पर भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने संसद के दोनों सदनों को बताया कि पीएम मोदी ने अमेरिका के सामने ऐसी कोई पेशकश नहीं की थी. जिसमें कश्‍मीर मुद्दे पर मध्‍यस्‍थता की बात की गई हो. कश्‍मीर मुद्दा भारत और पाकिस्‍तान के बीच का है.

इमरान खान ने उठाया कश्‍मीर का मुद्दा, ट्रंप बोले- हम करेंगे मध्‍यस्‍थता

बता दें कि पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने सोमवार को अमेरिका के राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप से मुलाकात की. व्हाइट हाउस पहुंचे पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के साथ विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी भी मौजूद थे. इस दौरान इमरान खान ने अमेरिकी राष्ट्रपति के सामने कश्मीर का मुद्दा रखा. ट्रंप ने इस मुद्दे पर भारत और पाकिस्तान के बीच मध्यस्थता की बात भी कही है.



कश्मीर पर मध्यस्थता की ट्रंप ने जताई इच्छा
समाचार एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक, डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था कि अमेरिका भारत और पाकिस्तान के तनावपूर्ण संबंधों में दखल दे सकता है. इमरान खान ने कहा है कि वह उपमहाद्वीप में शांति के लिए ट्रंप से भूमिका निभाने के लिए कहेंगे. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने सोमवार को बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी विवादित कश्मीर मामले को हल करने के लिए मदद मांगी थी. ऐसे में उन्होंने मध्यस्थ बनने की इच्छा जताई है.

ओसामा की ख़बर देने वाले डॉक्टर को पाकिस्तान से रिहा कराना चाहते हैं ट्रंप
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अमेरिकी सरकार के अफसर ने दोनों की मीटिंग में पाकिस्तान के ऐबटाबाद में ओसामा बिन लादेन के होने की जानकारी देने वाले डॉ शकील अफरीदी की रिहाई की मांग का मुद्दा भी उठाएंगे. इस मुद्दे की बात ट्रंप ने अपने चुनावी कैंपेन में भी की थी. वे कैंपेन में अफरीदी को दो मिनट में पाकिस्तान से आजाद कराने की बात कहते थे.

ये भी पढ़ें: ट्रंप बोले- हफ्ते भर में खत्म कर सकता हूं अफगान युद्ध, बस...
First published: July 23, 2019, 5:07 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...