पूर्व सांसदों को एक हफ्ते में खाली करने होंगे सरकारी बंगले वरना बिजली-पानी बंद

भाषा
Updated: August 19, 2019, 11:41 PM IST
पूर्व सांसदों को एक हफ्ते में खाली करने होंगे सरकारी बंगले वरना बिजली-पानी बंद
बैठक में फैसला लिया गया है कि तीन दिन के अंदर ऐसे बंगलों के बिजली, जल और गैस कनेक्शनों को काट दिया जाएगा. (Representative Image)

बैठक में फैसला लिया गया है कि तीन दिन के अंदर ऐसे बंगलों के बिजली, जल और गैस कनेक्शनों को काट दिया जाएगा.

  • Share this:
लोकसभा (Loksabha) की एक समिति ने लुटियंस दिल्ली (Lutyens Delhi) में सरकारी बंगलों में कार्यकाल खत्म होने के बाद भी रह रहे पूर्व सांसदों को एक हफ्ते में आवास खाली करने का निर्देश दिया है.

लोकसभा की आवास समिति के अध्यक्ष सीआर पाटिल (CR Patil) ने कहा कि समिति ने सोमवार को बैठक की थी जिसमें फैसला हुआ कि तीन दिनों में पूर्व सांसदों (Ex Member of Parliament) के सरकारी आवासों के बिजली, जल और गैस के कनेक्शन काट दिए जाएंगे.

पीटीआई-भाषा ने एक दिन पहले खबर दी थी लोकसभा के 200 से ज्यादा पूर्व सदस्यों ने अब तक अपने सरकारी बंगले खाली नहीं किए हैं. इसके बाद यह घटनाक्रम हुआ है.

एक हफ्ते में खाली करना होगा आवास

पाटिल ने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘‘आवास समिति की आज हुई बैठक में, फैसला लिया गया है कि तीन दिन के अंदर ऐसे बंगलों के बिजली, जल और गैस कनेक्शनों को काट दिया जाएगा और पूर्व सांसदों से एक हफ्ते के अंदर आवासों को खाली करने को कहा गया है.’’ उन्होंने कहा कि किसी भी पूर्व सांसद ने यह नहीं कहा है कि वह अपना बंगला खाली नहीं करेंगे.

Parliament, Ex MP
तीन दिनों में पूर्व सांसदों के सरकारी आवासों के बिजली, जल और गैस के कनेक्शन काट दिए जाएंगे. (PTI)


एक महीने में खाली करना होता है बंगला
Loading...

नियमों के अनुसार पूर्व सांसदों को पिछली लोकसभा भंग होने के एक महीने के भीतर अपने-अपने बंगलों को खाली करना होता है. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ramnath Kovind) ने केन्द्रीय मंत्रिमंडल (Central Cabinet) की सिफारिश पर 16वीं लोकसभा (16 Loksabha) को 25 मई को तत्काल प्रभाव से भंग कर दिया था.

एक सूत्र ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया, ‘‘लोकसभा के 200 से अधिक पूर्व सांसदों ने अब तक अपने सरकारी बंगलों को खाली नहीं किया है. इन पूर्व सांसदों को 2014 में ये बंगले आवंटित किये गये थे.’’ इस वजह से नव-निर्वाचित सांसद अस्थायी अवासों में रह रहे हैं.

ये भी पढ़ें-
सबसे बड़ी हेल्थ स्कीम में आप ऐसे देख सकते हैं अपना नाम

MNC ने कश्मीरियों को नौकरी से निकाला, सरकार ने किया बचाव

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 19, 2019, 11:41 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...