अपना शहर चुनें

States

पूर्व हॉकी खिलाड़ी समेत तीन लोगों के अपहरण के आरोप में पूर्व TDP मंत्री गिरफ्तार

पूर्व मंत्री को तीन भाइयों के अपहरण के आरोप में गिरफ्तार किया गया है (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)(सांकेतिक फोटो)
पूर्व मंत्री को तीन भाइयों के अपहरण के आरोप में गिरफ्तार किया गया है (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)(सांकेतिक फोटो)

Telangana News: आंध्र प्रदेश में टीडीपी की पूर्व मंत्री रह चुकीं भूमा अखिला प्रिया को तेलंगाना पुलिस ने तीन भाइयों के अपहरण के आरोप में गिरफ्तार किया है, जिसमें पूर्व हॉकी खिलाड़ी प्रवीण राव भी शामिल हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 6, 2021, 7:02 PM IST
  • Share this:
हैदराबाद. तेलंगाना पुलिस (Telangana Police) ने बुधवार को पूर्व मंत्री और तेलुगु देशम पार्टी (Telugu Desam Party) की पूर्व नेता भूमा अखिला प्रिया (Bhooma Akhila Priya) को तीन भाइयों का अपहरण कराने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने बताया कि एक पूर्व हॉकी खिलाड़ी और उनके दो भाइयों का कथित तौर पर खुद को आयकर विभाग का अधिकारी बताने वाले लोगों ने अपहरण कर लिया था. इन तीनों भाइयों को अपहरण के कुछ ही घंटों में मुक्त करा लिया गया.

आंध्र प्रदेश में टीडीपी की पूर्व मंत्री रह चुकीं भूमा अखिला प्रिया को तेलंगाना पुलिस ने तीन भाइयों के अपहरण के आरोप में गिरफ्तार किया है, जिसमें पूर्व हॉकी खिलाड़ी प्रवीण राव भी शामिल हैं. इस मामले के अन्य आरोपी उनके पति भार्गव राम और उनके पिता के करीबी सहयोगी एवी सुब्बा रेड्डी और टीडीपी के वरिष्ठ नेता भूमा नेगी रेड्डी हैं. पुलिस सूत्रों ने दर्ज मामले के आधार पर बताया कि मंगलवार रात बोवेनपल्ली इलाके में प्रवीण कुमार के घर तलाशी लेने के बहाने करीब 15 लोग घुस गए जिन्होंने खुद को आयकर विभाग का अधिकारी बताया. उन्होंने बताया कि गिरोह ने कुमार और उनके दो भाइयों को पहले एक कमरे में बंद कर दिया और फिर उन्हें एक फार्महाउस ले गए.

ये भी पढ़ें- IT पूछताछ पर वाड्रा बोले- केंद्र पर सवाल उठे तो हर बार मुझे निशाना बनाया



परिवार ने संदेह होने पर दी पुलिस को जानकारी
अधिकारियों ने कहा कि संदेह होने पर परिवार के सदस्यों ने इस संबंध में पुलिस को जानकारी दी जिसने कुछ ही घंटे के भीतर तीनों भाइयों को मुक्त करा लिया. पुलिस सूत्रों ने बताया कि घटना एक कथित भूमि विवाद के चलते हुई.

बाद में, पीड़ितों के एक रिश्तेदार ने मीडिया को बताया कि करीब 15 लोग खुद को आयकर और पुलिस अधिकारी बताते हुए घर में घुस गए तथा तलाशी वारंट भी दिखाया. उन्होंने परिवार के सदस्यों को एक घंटे से ज्यादा समय तक एक कमरे में बंद रखा और उनके मोबाइल तथा लैपटॉप भी जमा करा लिए. उन्होंने कहा कि संदेह होने पर पुलिस को जानकारी दी गई. पुलिस के अनुसार, उन्हें घटना के बारे में 11 बजे के आसपास जानकारी मिली, और भाइयों को 3 बजे तक बचाया गया.

ये भी पढ़ें- चीन नहीं भारत की कोरोना वैक्सीन चाहता है नेपाल, 14 को आएंगे नेपाली विदेशमंत्री

पुलिस ने बताया कि पूर्व मंत्री और भाइयों के बीच 200 करोड़ की कीमत की 50 एकड़ जमीन को लेकर विवाद चल रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज