EXCLUSIVE: पुलवामा, पठानकोट और उरी हमलों के गुनहगार मसूद अजहर के बीमार होने की खबर गलत, न्यूज 18 के हाथ लगी मेडिकल रिपोर्ट

ग्लोबल आतंकी के बारे में पाकिस्तान के दावे की बखिया उधड़ी, पूरी तरह सेहतमंद है जैश ए मोहम्मद सरगना मसूद अजहर, 57 साल के इस आतंकी को गुर्दे की कोई बीमारी नहीं, पाक विदेश मंत्री ने कहा था कि कमरे से बाहर तक नहीं निकल सकता अजहर

नीतीश कुमार | News18Hindi
Updated: July 11, 2019, 11:45 AM IST
EXCLUSIVE: पुलवामा, पठानकोट और उरी हमलों के गुनहगार मसूद अजहर के बीमार होने की खबर गलत, न्यूज 18 के हाथ लगी मेडिकल रिपोर्ट
आतंकवादी सरगना अजहर मसूद को गंभीर रूप बीमार बताया था पाकिस्तान ने ( फाइल फोटो)
नीतीश कुमार | News18Hindi
Updated: July 11, 2019, 11:45 AM IST
जैश ए मोहम्मद के 57 वर्षीय सरगना  मसूद अजहर को गुर्दे की कोई बीमारी नहीं है. 2015 से 2018 तक की उसकी मेडिकल रिपोर्ट्स न्यूज़ 18 के हाथ लगी हैं. इस रिपोर्ट से पता चलता है कि इस आतंकी को न तो गुर्दे की कोई बीमारी है और न ही दिल की. यह सच्चाई उजागर होने से ग्लोबल आतंकी के बारे में पाकिस्तान के दावे की बखिया उधड़ गई है. पाकिस्तान के विदेश मंत्री ने कहा था कि मसूद अजहर इतना बीमार है कि वह कमरे से बाहर तक नहीं निकल सकता.

न्यूज 18 के हाथ लगी रिपोर्ट
न्यूज 18 की टीम ने मसूद अजहर की रिपोर्ट की जांच कराई. इन रिपोर्ट्स को सर गंगाराम के चिकित्सकों को दिखाया गया. गंगाराम अस्पताल के नेफ्रॉलॉजी विभाग के चेयरमैन डॉ. डी एस राना को सारी रिपोर्ट्स दिखाई गईं. डॉ. राना ने मसूद अजहर की तमाम रिपोर्ट्स देखीं. फिर उन्होंने कहा कि इन रिपोर्ट्स के आधार पर उसे किडनी का कोई रोग नहीं है. इस जाने माने डॉक्टर का कहना है कि इस रिपोर्ट के अनुसार वो किसी भी स्वस्थ्य व्यक्ति जितना ही सेहतमंद है. न्यूज 18 के पास मसूद अजहर की वो सभी मेडिकल रिपोर्ट्स मौजूद हैं जो पुष्टि करती हैं कि वह पूरी तरह स्वस्थ है, लेकिन हम गोपनीयता बनाए रखने के चलते उसे सार्वजनिक नहीं कर सकते.

फौजी फाउडेंशन अस्पताल में कराता है जांच

24 नवंबर 2018 से पहले तक अजहर मसूद की यूरीन रिपोर्ट भी पूरी तरह सामन्य थी. उसमें महज शुगर की बीमारी दिख रही थी. शुगर होना इस उम्र के लोगों में आम बात मानी जाती है. मसूद की मेडिकल रिपोर्ट से पता चलता है कि अजहर मसूद रावलपिंडी के फौजी फाउंडेशन हॉस्पिटल और इस्लामाबाद के महरुफ हॉस्पिटल में अपनी जांच और जरूरी इलाज कराता रहा है.
पाकिस्तानी अस्पतालों में  उसकी  जांच और देखरेख करने वाले डॉक्टरों में डॉक्टर समी सईद , डॉक्टर मारिया शब्बीर, डॉक्टर रोशन परवीन और डॉक्टर आइशा रियाज शामिल हैं.

पाक विदेश मंत्री का दावा गलत
Loading...

न्यूज 18 इंडिया के हाथ लगी इस रिपोर्ट से पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह मोहम्मद कुरैशी के उस झूठ का भी पर्दाफाश हो गया है, जिसमें उन्होंने मसूद को बेहद बीमार करार दिया था. साथ ही कहा था कि वो इतना बीमार है कि कमरे के बाहर तक नहीं आ सकता. मेडिकल रिपोर्ट से साफ हो चुका है कि ग्लोबल आतंकी मसूद अजहर की करतूतों पर पर्दा डालने के इरादे से पाकिस्तान ये झूठ बोलता आया है.

ये भी पढ़ें : बालाकोट का असर, हाफिज-मसूद ने अफगानिस्तान के आतंकी संगठनों से किया गठजोड़!

हाफिज और मसूद के खिलाफ कार्रवाई में भी पाकिस्तान कर रहा चालाकी!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 11, 2019, 11:43 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...