EXCLUSIVE: बालाकोट पर हमला करने के बाद दो दिनों तक आराम फरमा रहे थे पायलट

न्यूज़ 18 इंडिया ने इस एयर स्ट्राइक को अंजाम देने वाले दो पायलटों से एक्सक्लूसिव बातचीत की. इन दोनों ने नाम न बताने की शर्त पर बालाकोट में एयर स्ट्राइक की पूरी कहानी बताई.

News18Hindi
Updated: June 25, 2019, 11:44 AM IST
EXCLUSIVE: बालाकोट पर हमला करने के बाद दो दिनों तक आराम फरमा रहे थे पायलट
सांकेतिक तस्वीर
News18Hindi
Updated: June 25, 2019, 11:44 AM IST
बालाकोट पर एयर स्ट्राइक करने के बाद पायलट ने दो दिनों तक आराम फरमाया. एयर स्ट्राइक के बाद दुनिया भर में हंगामा मचा था, लेकिन हमारे पायलट इससे बेखबर थे. न्यूज़ 18 इंडिया ने इस एयर स्ट्राइक को अंजाम देने वाले दो पायलटों से एक्सक्लूसिव बातचीत की. इन दोनों ने नाम न बताने की शर्त पर बालाकोट में एयर स्ट्राइक की पूरी कहानी बताई.

हमले के बाद आराम
इस साल 26 फरवरी को भारत ने पाकिस्तान के बालाकोट में एयर स्ट्राइक किया था. पायलट ने नाम न बताने की शर्त पर कहा कि हमले के दो दिन बाद तक वो बस आराम करते रहे और सोते रहे. दरअसल वो लगातार अभ्यास के चलते काफी थक गए थे.

मोबाइल कर लिया था बंद

पायलटों के मुताबिक जैसे ही मिराज के सर्जिकल स्ट्राइक में शामिल होने की बात सामने आई उनके परिवारवालों ने फ़ोन और वॉटस्एप पर कॉल करने शुरू कर दिए. लेकिन इन दोनों ने अपने-अपने फोन बंद कर लिए थे. इतना ही नहीं पायलटों ने स्ट्राइक से पहले और स्ट्राइक के बाद किसी तरह की छुट्टी भी नहीं ली थी.

एक पायलट ने बताया कि टार्गेट के पास पहुंचते ही पहले से ही प्रोग्राम किए हुए स्पाइस बम को उन्होंने रिलीज़ कर दिया और महज़ 60 से 90 सकेंड में वह भारतीय सीमा के पास के एयर फ़ील्ड में लैंड कर गए. इस मिराज के पैकेज को भारतीय वायुसेना के दूसरे विमान भी लगातार निगरानी और सपोर्ट दे रहे थे.

लेजर बम से हुआ इंटरनल डैमेज
कहा जा रहा है कि S-2000 लेजर गाइडेड बमों ने जैश के आतंकी ठिकानों को निशाना बनाया और उन्हें आंतरिक तौर पर काफी नुकसान पहुंचाया. साथ ही S-2000 स्मार्ट बमों की बौछार ने टार्गेट को तबाह किया.

ये भी पढ़ें:

इमरजेंसी: राजनीतिक हितों के लिए हुई लोकतंत्र की हत्या-शाह

बड़े संकट में घिरी RJD, महीने भर से अज्ञातवास पर तेजस्वी!
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...