लाइव टीवी

Exclusive: अमित शाह ने बताया, महाराष्ट्र में शिवसेना की ओर से डिप्टी सीएम पद की मांग पर क्या है बीजेपी की राय

News18Hindi
Updated: October 17, 2019, 8:00 PM IST
Exclusive: अमित शाह ने बताया, महाराष्ट्र में शिवसेना की ओर से डिप्टी सीएम पद की मांग पर क्या है बीजेपी की राय
गृह मंत्री अमित शाह ने इंटरव्यू में कई मुद्दों पर बात की.

News18 को दिए एक विशेष साक्षात्कार में अमित शाह (Amit Shah) ने इस बात से इनकार किया कि उनके बयानों को लेकर शिवसेना खेमे के साथ कोई अनबन चल रही है .

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 17, 2019, 8:00 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. महाराष्ट्र (Maharashtra) में उपमुख्यमंत्री पद (Deputy Chief Minister) की शिवसेना (Shiv Sena) की मांग पर अपनी पार्टी का रुख साफ करते हुए भारतीय जनता पार्टी (BJP) के अध्यक्ष और केंद्रीय गृह मंत्री (Minister of Home Affairs) अमित शाह (Amit Shah) ने संकेत दिया है कि भाजपा अपने सहयोगी को पद देने पर विचार करने के लिए खुली है. हालांकि उन्होंने कहा कि यदि एनडीए (NDA) राज्य की सत्ता में वापसी करता है तो महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस ही रहेंगे.

News18 नेटवर्क के ग्रुप एडिटर-इन-चीफ राहुल जोशी को दिए एक एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में अमित शाह ने इस बात से इनकार किया कि उनके बयानों को लेकर शिवसेना खेमे के साथ कोई अनबन चल रही है कि महाराष्ट्र का अगला मुख्यमंत्री कोई शिव सैनिक होना चाहिए. शाह ने इस मुद्दे पर बीजेपी की स्थिति स्पष्ट की.

उन्होंने कहा, 'मुझे नहीं लगता कि शिवसेना के नेता इस तरह के बयान जारी कर रहे हैं वो गठबंधन के लिए एक बड़ा खतरा है. यह बहुत स्पष्ट है कि फडणवीस (Devendra Fadnavis) मुख्यमंत्री होंगे.' शाह से फिर सवाल पूछा गया - क्या वे शिवसैनिक को डिप्टी सीएम मानेंगे?

शाह ने कहा, 'देवेंद्र फडणवीस और उनकी टीम फैसला करेगी. वे भाजपा के संसदीय बोर्ड के साथ इस विषय पर राय मशविरा करेंगे. सभी विकल्प खुले हैं.'

भाजपा अध्यक्ष ने दो पुराने गठबंधन सहयोगियों के बीच कथित झगड़े पर भी बात की. मुखपत्र सामना (Saamna) के माध्यम से शिवसेना के नेता बार-बार संसद में प्रमुख मुद्दों पर भाजपा को चुनौती दे रहे हैं. इसके जवाब में कुछ भाजपा नेताओं की ओर से कहा जाता है और दोनों दलों के सीट साझा करने के मामले कई खबरें बड़ी दरार की बात कर रहे हैं. शाह ने ऐसी सभी रिपोर्टों का खंडन किया.

शाह ने कहा-  यह एक स्वस्थ गठबंधन का संकेत
शाह ने कहा, 'पार्टी कार्यकर्ताओं पर दबाव है. सभी पार्टी कार्यकर्ता चाहते हैं कि उनकी पार्टी का विस्तार हो. बातचीत के बारे में मुझे इसमें कुछ भी दिक्कत नहीं लगती. यह एक स्वस्थ गठबंधन का संकेत है.'
Loading...

उन्होंने कहा कि दोनों दल हाल ही में संपन्न लोकसभा चुनाव और आगामी विधानसभा चुनावों में दोनों दलों के कार्यकर्ता एक-दूसरे के साथ खड़े हुए हैं. इसलिए दोनों दलों के बीच जमीनी स्तर पर चुनाव अभियान की रणनीति और उसे लागू करने के बारे में कोई विवाद नहीं है.

महाराष्ट्र में आगामी चुनावों में वह भाजपा को किस तरह से आगे बढ़ेगी इस बारे में बातचीत पर अमित शाह ने कहा कि भाजपा-शिवसेना गठबंधन (BJP Shivsena) को दो-तिहाई बहुमत मिलेगा. जब उन पर भाजपा की जीतने वाली सीटों की संख्या के बारे में भविष्यवाणी करने पर जोर दिया गया, तो शाह ने कहा कि फिलहाल संख्या बताना असामयिक होगा लेकिन भाजपा निश्चित रूप से पिछली बार से अपनी संख्या में सुधार करेगी.

साल 2014 के विधानसभा चुनाव में भाजपा और शिवसेना अलग-अलग लड़े थे, भाजपा 122 सीटों पर सबसे आगे रही और बाद में सरकार बनाने के लिए शिवसेना के साथ गठबंधन किया. यह पूछे जाने पर कि क्या 164 सीटों पर लड़ रही भाजपा को अपनी सरकार बनाने के लिए पर्याप्त सीटें मिल सकती हैं? शाह ने कहा, 'हां, हम उस तक जा सकते हैं. यह असंभव नहीं है.'

यह भी पढ़ें:  Exclusive: अमित शाह ने कहा- मीडिया में ही थी मुझे वित्‍त मंत्री बनाने की चर्चा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 17, 2019, 6:49 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...