लाइव टीवी

Exclusive Interview: गृह मंत्री अमित शाह ने कहा - सिर्फ मीडिया में ही थी मुझे वित्‍त मंत्री बनाए जाने की चर्चा

News18Hindi
Updated: October 17, 2019, 5:35 PM IST
Exclusive Interview: गृह मंत्री अमित शाह ने कहा - सिर्फ मीडिया में ही थी मुझे वित्‍त मंत्री बनाए जाने की चर्चा
गृह मंत्री अमित शाह ने कहा, पीएम नरेंद्र मोदी अपने अनुभव और कार्यकर्ताओं की क्षमताओं के आधार पर फैसला करते हैं. हमारा दायित्व है कि हम सब उनके फैसले को सफल बनाएं.

केंद्रीय गृह मंत्री (Union Home Minister) अमित शाह (Amit Shah) ने नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के प्रधानमंत्री रहते मंत्रियों के पोर्टफोलियो बंटवारे को लेकर अनुमानों को सिर्फ समय की बर्बादी करार दिया. उन्‍होंने कहा, हमारी संवैधानिक व्यवस्था में मंत्रियों के चयन के बाद उनके विभागों का बंटवारा प्रधानमंत्री का विशेषाधिकार है. न्यूज़18 नेटवर्क (News18 Network) ग्रुप के एडिटर इन चीफ राहुल जोशी (Rahul Joshi) को दिए एक्सक्लूसिव इंटरव्यू (Excluisive Interview) में उन्‍होंने कहा कि इस पर बहुत ज्यादा सोचना या आकलन करना निरर्थक होता है. इस तरह की चर्चा सिर्फ मीडिया में ही थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 17, 2019, 5:35 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Election 2019) के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के नेतृत्‍व में दोबारा बीजेपी की सरकार बनने के बाद मंत्रियों के विभागों को लेकर काफी अनुमान लगाए गए. उस समय मीडिया में अनुमान लगाया जा रहा था कि बीजेपी (BJP) के कद्दावर नेता अमित शाह (Amit Shah) को मोदी सरकार 2.0 (Modi Government 2.0) में वित्‍त मंत्री (FM) बनाया जा सकता है. हालांकि, विभागों के बंटवारे में उन्‍हें गृह मंत्रालय (Ministry of Home Affairs) मिला. केंद्रीय गृह मंत्री (Union Home Minister) अमित शाह ने न्यूज़18 नेटवर्क (News18 Network) ग्रुप के एडिटर इन चीफ राहुल जोशी (Rahul Joshi) को दिए एक्सक्लूसिव इंटरव्यू (Excluisive Interview) में ऐसे अनुमानों को समय की बर्बादी करार दिया.

'पीएम मोदी अनुभव और क्षमता के आधार पर करते हैं फैसला'
अमित शाह ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (BJP) में और विशेषकर जब नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री (PM Narendra Modi) हैं तब इस तरह के आकलन नहीं लगाने चाहिए. हमारी संवैधानिक व्यवस्था में मंत्रिमंडल चयन और मंत्रियों के चयन के बाद विभाग का बंटवारा प्रधानमंत्री का विशेषाधिकार है. मैं मानता हूं कि इस पर बहुत ज्यादा सोचना या अनुमान लगाना (Speculations) निरर्थक होता है. पीएम नरेंद्र मोदी ने बहुत साल संगठन का काम किया है. उन्‍होंने गुजरात के साथ ही पूरे देश का काम देखा है. वह बहुत से कार्यकर्ताओं को व्‍यक्तिगत तौर (Personally) पर जानते हैं. वह अपने अनुभव और कार्यकर्ताओं की क्षमताओं के आधार पर फैसला करते हैं. हमारा दायित्व है कि हम सब उनके फैसले को सफल बनाएं.


'आप में लगन और निष्‍ठा है तो बीजेपी में निराशा नहीं मिलेगी'
बीजेपी में अपने सफर के सवाल पर अमित शाह ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की यही विशेषता है. अगर आपके मन में लगन है और आप मेहनत करने से पीछे नहीं हटते तो पार्टी आपको धीरे-धीरे बड़ा बनाती जाती है. हर व्यक्ति के जीवन में अच्छा बुरा समय आता है, लेकिन अगर पार्टी के प्रति निष्ठा रखकर आपने पार्टी पर भरोसा किया है तो आप बीजेपी से कभी निराश नहीं होंगे. मेरे जैसे कई लोग बीजेपी में छोटे कार्यकर्ता से नेता बने. पार्टी की कार्यपद्धति ही छोटे से कार्यकर्ता को बहुत बड़ा नेता बनाकर बहुत बड़े पद पर बैठाती है.

'नए अध्‍यक्ष को सफल बनाने में लगा दूंगा अपनी पूरी शक्ति'
Loading...

बीजेपी के अध्‍यक्ष बने रहने या किसी दूसरे नेता को यह जिम्‍मेदारी सौंपने के सवाल पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि नए अध्यक्ष मुझे जो काम देंगे, वो मैं जरूर करूंगा. लेकिन कार्यकर्ता के अलावा भी मेरी जिम्मेदारी है. मैं अपनी पूरी शक्ति और ऊर्जा नए अध्यक्ष को सफल बनाने में लगा दूंगा. बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी News18 Network को दिए इंटरव्यू में कहा था कि पार्टी की सफलता का पूरा श्रेय अमित भाई को जाता है.

ये भी पढ़ें:

EXCLUSIVE:अमित शाह ने कहा-सभी स्‍वीकारेंगे राममंदिर पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला
EXCLUSIVE: अमित शाह ने बताईं PM मोदी की 3 बड़ी उपलब्धियां, कही ये बात

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 17, 2019, 4:00 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...