Home /News /nation /

आज खुलेगा करतारपुर कॉरिडोर, श्रद्धालुओं के लिए नेगेटिव RT-PCR रिपोर्ट, वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट अनिवार्य

आज खुलेगा करतारपुर कॉरिडोर, श्रद्धालुओं के लिए नेगेटिव RT-PCR रिपोर्ट, वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट अनिवार्य

पाकिस्तान के करतारपुर में स्थित गुरुद्वारा दरबार साहिब. (फाइल फोटो)

पाकिस्तान के करतारपुर में स्थित गुरुद्वारा दरबार साहिब. (फाइल फोटो)

Covid Rules Kartarpur Corridor: पाकिस्तान स्थित गुरुद्वारा दरबार साहिब के दर्शन के लिए श्रद्धालुओं को कुछ बातों का खयाल रखना बेहद जरूरी है. न्यूज़18 को मिली जानकारी के मुताबिक श्रद्धालुओं को नेगेटिव RT-PCR रिपोर्ट और वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट साथ ले जाना होगा. दरअसल करतारपुर कॉरिडोर पंजाब के गुरुदासपुर स्थित डेरा बाबा नानक गुरुद्वारा से पाकिस्तान के गुरुद्वारा दरबार साहिब को जोड़ता है.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. केंद्र सरकार ने सिख श्रद्धालुओं के लिए आज यानी बुधवार से करतारपुर कॉरिडोर (Kartarpur Corridor) खोलने का निर्णय लिया है. पाकिस्तान स्थित गुरुद्वारा दरबार साहिब के दर्शन के लिए श्रद्धालुओं को कुछ बातों का खयाल रखना बेहद जरूरी है. श्रद्धालुओं के लिए यह जानकारी बहुत जरूरी है कि करतारपुर कॉरिडोर से यात्रा करने वाले सभी यात्रियों को 72 घंटों में कराए गए RT-PCR टेस्ट की नेगेटिव रिपोर्ट और वैक्सीन सर्टिफिकेट साथ ले जाना अनिवार्य होगा. करतारपुर गुरुद्वारे में भी पाकिस्तान के अन्य इलाकों की तरह वहां के कोविड-19 गाइडलाइंस का पालन करना जरूरी होगा.

दरअसल करतारपुर कॉरिडोर पंजाब के गुरुदासपुर स्थित डेरा बाबा नानक गुरुद्वारा से पाकिस्तान के गुरुद्वारा दरबार साहिब को जोड़ता है. पाकिस्तान के Evacuee Trust Property Board के चेयरमैन आमिर अहमद ने न्यूज़18 से कहा के पहले सिख जत्थे का स्वागत करने के लिए पाकिस्तान ने तैयारी कर ली है और पहला सिख जत्था बुधवार को करतारपुर गुरुद्वारे के दर्शन करेगा. गुरुद्वारों का रखरखाव करने वाले बोर्ड के चेयरमैन ने न्यूज़18 से कहा कि पाकिस्तान पहुंचने पर सभी श्रद्धालुओं का तापमान चेक होगा. अगर किसी यात्री में कोरोना के लक्षण नजर आए तो उन्हें आइसोलेट कर उनकी प्रोफाइलिंग की जाएगी.

यात्रा के दौरान मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना अनिवार्य होगा
साथ ही यात्रा के दौरान मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना अनिवार्य होगा. आमिर अहमद ने कहा कि गुरुद्वारे के परिसर में सैनिटाइजेशन टनल भी तैनात की गई है और पाकिस्तान पहुंचने पर किसी यात्री का दोबारा आरटी-पीसीआर टेस्ट नहीं होगा. भारत सरकार के सूत्रों के हवाले से इस बात की भी पुष्टि हुई है कि पहला सिख जत्था बुधवार को करतारपुर गलियारे से गुरुद्वारे के दर्शन करने के लिए जाएगा. हालांकि अभी तक रजिस्ट्रेशन के लिए MHA की वेबसाइट चालू नहीं हुई है.

अमित शाह ने किया ट्वीट
इससे पहले केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने ट्वीट किया, ‘एक बड़ा फैसला जो लाखों सिख श्रद्धालुओं को लाभ पहुंचाएगा, नरेंद्र मोदी सरकार ने कल, 17 नवंबर से करतारपुर साहिब गलियारा को फिर से खोलने का निर्णय किया है.’ गृह मंत्री ने कहा, ‘यह फैसला गुरु नानक देव जी और सिख समुदाय के प्रति मोदी सरकार की अपार श्रद्धा को दर्शाता है.’ उन्होंने कहा कि राष्ट्र 19 नवंबर को श्री गुरु नानक देव जी का प्रकाश उत्सव मनाने की तैयारी कर रहा है और उन्हें विश्वास है कि यह कदम ‘देश भर में खुशी और उत्साह को और बढ़ा देगा.’

1500 सिख श्रद्धालुओं का जत्था पाकिस्तान जाएगा
17 से 26 नवंबर के बीच जो 1500 सिख श्रद्धालुओं का जत्था पाकिस्तान जाएगा, वह वाघा-अटारी सीमा चेकप्वॉइंट से पाकिस्तान में प्रवेश करेगा. विदेश मंत्रालय ने कहा था कि यह जत्था गुरुद्वारा ननकाना साहिब, गुरुद्वारा श्री दरबार साहिब, गुरुद्वारा श्री पंजा साहिब, गुरुद्वारा श्री डेरा साहिब, गुरुद्वारा श्री करतारपुर साहिब और गुरुद्वारा श्री सच्चा सौदा का दौरा करेगा.

आपको बता दें कि 9 नवंबर 2019 को यह गलियारा श्रद्धालुओं के लिए खोला गया था और 129 दिन के अंदर करीब 63 हजार श्रद्धालुओं ने गलियारे के ज़रिए करतारपुर गुरुद्वारे के दर्शन किए थे.

Tags: Covid Protocol, Kartarpur Corridor

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर