Home /News /nation /

अरुण जेटली ने पेश किया आम बजट, जानें- क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स

अरुण जेटली ने पेश किया आम बजट, जानें- क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स

वित्त मंत्री अरुण जेटली इस समय मोदी सरकार का दूसरा आम बजट पेश कर दिया हैं। जेटली के इस बजट प अलग अलग आर्थिक विशेषज्ञों ने अलग अलग राय दी है।

वित्त मंत्री अरुण जेटली इस समय मोदी सरकार का दूसरा आम बजट पेश कर दिया हैं। जेटली के इस बजट प अलग अलग आर्थिक विशेषज्ञों ने अलग अलग राय दी है।

वित्त मंत्री अरुण जेटली इस समय मोदी सरकार का दूसरा आम बजट पेश कर दिया हैं। जेटली के इस बजट प अलग अलग आर्थिक विशेषज्ञों ने अलग अलग राय दी है।

    नई दिल्ली। वित्त मंत्री अरुण जेटली इस समय मोदी सरकार का दूसरा आम बजट पेश कर दिया हैं। जेटली के इस बजट प अलग अलग आर्थिक विशेषज्ञों ने अलग अलग राय दी है। इस मौके पर आईबीएनखबर के संवाददाता ने बात की कुछ आर्थिक एक्सपर्ट से, आइए जानने की कोशिश करते हैं क्या कहा एक्सपर्ट ने

    मैप माई टैलेंट के एमडी नीरज पाठक के मुताबिक बजट पेश होने के बाद जिस शेयर मार्केट जिस तरह से गिरा है उसको देखकर नहीं लगता है कि कॉरपोरेट इस बजट से ज्यादा खुश होंगे। सरकार का ये बजट काफी कंजरवेटिव लग रहा है। किसानों के लिए जो ऐलान किए गए हैं, वो काफी अच्छे हैं, लेकिन इनपर सरकार कितना अमल कर पाएगी, ऐलान और काम के होने में काफी फर्क होता है।

    शहरों में किए गए ऐलान तो पूरे हो नहीं पाते, मुझे नहीं लगता कि गांवों में इतनी आसानी से काम हो पाएगा। नीरज ने मनरेगा के लिए सरकार द्वारा 38500 करोड़ रुपए के ऐलान पर कहा कि ये गरीबों के लिए अच्छा होगा, लेकिन ये बात काफी अहम है कि जिसके मनरेगा की सरकार इतनी बुराई करती थी, उसके लिए इतने बड़े बजट का ऐलान किया गया है।

    पूर्व फाइनेंस सेक्रेटरी सी.एम वासुदेव के मुताबिक सरकार के हर तबके को खुश करने की कोशिश की है। बजट में सरकार के ग्रोथ के लिए ज्यादा स्कोप नहीं दिया। कृषि के लिए कई प्रोग्राम तो बनाए गए, लेकिन इन सबमें राज्यों की भी भागेदारी होती है और सरकार की कई सरकारों कॉम्पीशन भी रहता है। ऐसे में सरकार कैसे मिलकर काम करेगी, ये बताना थोड़ा मुश्किल है। सरकार रिवेन्यू कैसे जनरेट करेगी इस पर कुछ खास फोकस नहीं किया गया है।

    इंटिग्रेटेड फांइनेशियल सॉल्यूशन प्राइवेट लिमिटेड के प्रबंध निदेशक राकेश सिंह के मुताबिक ये सरकार राजनीति से प्रेरित लग रही है ये बजट सोशल ज्यादा लग रहा है। बजट को देखकर लग रहा है कि सरकार ने आगामी चुनाव को देखकर अपना बजट बनाया है। अगर सरकार सोशल एक्टिविटी में ज्यादा ध्यान देगी तो देश की इकोनॉमी का क्या होगा। देश रोजगार कहां से आएगा। इन सारी चीजों पर बजट में ध्यान नहीं दिया गया। अगर इनकम टैक्स की बात की जाए तो लोगों को काफी उम्मीदें थी, लेकिन सरकार ने लोगों को निराश किया है।

    Tags: Arun jaitley, BJP, Budget 2016

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर