Assembly Banner 2021

एंटीलिया मामला: NIA ने 12 घंटे की पूछताछ के बाद पुलिस अधिकारी सचिन वाजे को किया गिरफ्तार

(सांकेतिक तस्वीर)

(सांकेतिक तस्वीर)

एनआईए (NIA) ने कहा कि सचिन वाजे को 25 फरवरी को विस्फोटकों (Explosives) से भरा वाहन खड़ा करने में भूमिका निभाने और इसमें संलिप्त रहने के शक गिरफ्तार किया गया. अंबानी के आवास के पास खड़ी गाड़ी में जिलेटिन की कुछ छड़ें और एक धमकी भरा पत्र मिला था.

  • Share this:
मुंबई. मुंबई के प्रसिद्ध एंटीलिया (Antilia) बंगले के पास विस्फोटकों से लदी एक एसयूवी मिलने के मामले की जांच कर रही राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने मुंबई पुलिस के अधिकारी सचिन वाजे को 12 घंटे से अधिक समय तक पूछताछ करने के बाद शनिवार रात गिरफ्तार कर लिया. यह जानकारी जांच एजेंसी के प्रवक्ता ने दी.

वाजे, दक्षिण मुंबई में कंबाला हिल स्थित एजेंसी के दफ्तर में पूर्वाह्न करीब साढ़े 11 बजे अपना बयान दर्ज कराने के लिए पहुंचे थे. एनआईए के प्रवक्ता ने कहा, ‘सचिन वाजे को रात 11 बजकर 50 मिनट पर एनआईए मामला आरसी/1/2021/एनआईए/एमयूएम में गिरफ्तार कर लिया गया.’ कार्माइकल रोड स्थित अंबानी के आवास के पास खड़ी एक एसयूवी (स्कॉर्पियो) में 25 फरवरी को जिलेटिन की कुछ छड़ें और एक धमकी भरा पत्र मिला था.

एनआईए ने कहा कि वाजे को 25 फरवरी को विस्फोटकों से भरा वाहन खड़ा करने में भूमिका निभाने और इसमें संलिप्त रहने को लेकर गिरफ्तार किया गया. ‘एनकाउंटर स्पेशलिस्ट’ वाजे, ठाणे निवासी व्यवसायी मनसुख हिरन की मौत मामले में भी सवालों के घेरे में हैं. उक्त स्कॉर्पियो हिरानी के पास ही थी. हिरन पांच मार्च को ठाणे जिले में क्रीक में मृत पाये गए थे.



आतंकवाद रोधी दस्ता (एटीएस) हिरन मामले की जांच कर रहा है. हिरन का शव मिलने के कुछ दिनों बाद एटीएस ने अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की थी. शनिवार को वाजे का बयान दर्ज करते हुए एनआईए ने एसयूवी मिलने और हिरन की कथित हत्या के मामलों में अब तक की गई जांच के बारे में जानकारी साझा करने के लिए अपराध शाखा के एसीपी नितिन अलकनुरे और एटीएस एसीपी श्रीपद काले को बुलाया था.

अलकनुरे और काले करीब चार घंटे बाद एनआईए कार्यालय से चले गए. हिरन की पत्नी ने वाजे पर अपने पति की संदिग्ध मौत मामले में संलिप्त होने के आरोप लगाए थे. इसी हफ्ते वाजे को मुंबई अपराध शाखा से हटा दिया गया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज