पाकिस्तान पर एयर स्ट्राइक को लेकर शेयर गिलगित वीडियो निकला फर्जी

पाकिस्तान के गिलगित प्रांत के एक एक्टिविस्ट की ओर से जारी एक वीडियो को फ़ैक्ट चैक के दौरान जाली पाया गया है.

एएनआई
Updated: March 14, 2019, 6:45 PM IST
पाकिस्तान पर एयर स्ट्राइक को लेकर शेयर गिलगित वीडियो निकला फर्जी
प्रतीकात्मक
एएनआई
Updated: March 14, 2019, 6:45 PM IST
पाकिस्तान के गिलगित प्रांत के एक एक्टिविस्ट की ओर से जारी एक वीडियो को फ़ैक्ट चैक के दौरान जाली पाया गया है. इस वीडियो में कथित एक्टिविस्ट की ओर से दावा किया गया था कि कुछ पाकिस्तानी सैनिक बालाकोट एयर स्ट्राइक में मारे गए आतंकियों से मुलाकात कर उन्हें ढाढस बंधा रहे हैं.  न्यूज18 ने पहले भी इस वीडियो की प्रामाणिकता पर सवाल उठाए थे.

गिलगित के इस कथित एक्टिविस्ट सेरिंग के हवाले से ट्विटर पर दो मिनट 20 सेकेंड का एक वीडियो शेयर किया गया था. साथ ही कहा गया था 'भारत के एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान के सैन्य अधिकारियों ने 200 से ज्यादा आतंकियों को दफनाने की बात कबूल की है. आतंकी मुजाहिद को अल्लाह से मिले खास सौगात की बात करते हुए उन्होंने दावा किया कि ये लोग पाकिस्तान सरकार के लिए दुश्मन के खिलाफ काम कर रहे थे. उनके परिवारों को सहयोग देने की बात की.' हालांकि हसनान सेरिंग ने भी इस वीडियो की तारीख और समय की पुष्टि नहीं की थी. मगर इसे मीडिया में असल वीडियो के रूप में दिखाया गया.

वीडियो में दिखाया जा रहा है कि कथित रूप से पाकिस्तानी सेना का एक अधिकारी किसी गांव में एक परिवार के पास पहुंचता है. वहां चारों तरफ मातम है. सेना का अधिकारी आतंकी के परिवार वालों को समझाने की कोशिश कर रहा है.



फैक्ट चेक 1 - वीडियो में सुनाई दे रहा ऑडियो आपस में मैच नहीं कर रहा था.

फैक्ट चेक 2 - इस वीडियो के अलग-अलग फ़्रेमों को जब गूगल रिवर्स इमेज सर्च किया गया तो उनमें से एक फ्रेम को गूगल ने कुछ दिन पहले फेसबुक पर की गई एक पोस्ट से मैच होता हुआ पाया.

फैक्ट चेक 3 - वीडियो को गौर से देखें तो उसमें दिखाई गई जगह पर मोटी बर्फ पड़ी हुई है. लेकिन जब 26 फरवरी को बालाकोट एयर स्ट्राइक हुई तब के फोरकास्ट के हिसाब से वहां ऐसी मोटी बर्फ की परतें नहीं बन सकती थीं.

भारत ने पाकिस्तान के बालाकोट इलाके में 26 फरवरी को आतंकी शिविरों पर सर्जिकल स्ट्राइक करने का दावा किया था. इसके बाद पाकिस्तानी सेना के एक प्रवक्ता ने इसकी पुष्टि की थी और कहा था कि भारतीय वायुसेना के विमानों ने बमबारी करके वहां पेड़ों को नुकसान पहुँचाया था.
Loading...

ये भी पढ़ें:

पीएम मोदी को घेरने गंगा के रास्ते प्रयागराज से काशी पहुंचेंगी प्रियंका गांधी!

प्रधानमंत्री बनने से दो महीने पहले तक जेल में बंद थे ये गुजराती नेता

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp
Loading...

और भी देखें

पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...