लाइव टीवी

युद्ध में हताहत सैनिकों के परिवार को अब मिलेगी 4 गुना ज्यादा आर्थिक मदद, राजनाथ सिंह ने स्वीकार किया प्रस्ताव

भाषा
Updated: October 5, 2019, 3:47 PM IST
युद्ध में हताहत सैनिकों के परिवार को अब मिलेगी 4 गुना ज्यादा आर्थिक मदद, राजनाथ सिंह ने स्वीकार किया प्रस्ताव
भी युद्ध में शहीद होने वालों और 60 प्रतिशत या उससे अधिक अपंगता झेलने वालों के अलावा कई अन्य श्रेणी के तहत आने वाले सैनिकों को दो लाख रुपये तक की आर्थिक सहायता दी जाती है.

अभी युद्ध में शहीद होने वालों (Casualties in war) और 60 प्रतिशत या उससे अधिक अपंगता झेलने वालों के अलावा कई अन्य श्रेणी के तहत आने वाले सैनिकों को दो लाख रुपये तक की आर्थिक सहायता दी जाती है.

  • Share this:
नई दिल्ली. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) के सेना की दीर्घलंबित मांग स्वीकार कर दिया है. जिसके बाद अब युद्ध में हताहत (Casualties in war) हुए सैनिकों के परिवारों को दी जाने वाली आर्थिक सहायता में चार गुना बढ़ोतरी की गई है. सरकार ने मौजूदा दो लाख रुपये से बढ़ा कर आठ लाख रुपये करने के प्रस्ताव को सैद्धांतिक स्वीकृति दे दी है. अधिकारियों ने शनिवार को बताया कि यह आर्थिक सहयोग युद्ध के हताहतों के लिए बनाए गए सैनिक कल्याण निधि (ABCWF) के तहत दिया जाएगा.

गौरतलब है कि अभी युद्ध में शहीद होने वालों और 60 प्रतिशत या उससे अधिक अपंगता झेलने वालों के अलावा कई अन्य श्रेणी के तहत आने वाले सैनिकों को दो लाख रुपये तक की आर्थिक सहायता दी जाती है. यह मदद पेंशन, सेना की सामूहिक बीमा, सेना कल्याण निधि और अनुग्रह राशि के अलावा दी जाती है.

युद्ध हताहतों के परिवारों को अभी तक 2 लाख मिलता था
रक्षा मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने बताया, 'रक्षा मंत्री ने युद्ध हताहतों की सभी श्रेणी के परिवारों को दी जाने वाली आर्थिक सहायता दो लाख रुपये से बढ़ाकर आठ लाख रुपये करने को सैद्धांतिक स्वीकृति दी.'गौरतलब है कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह आठ अक्टूबर को पेरिस में फ्रांस के वायुसेना अड्डे पर राफेल लड़ाकू विमान में उड़ान भरेंगे.

राजनाथ सिंहका सात अक्टूबर को फ्रांस जाएंगे
अधिकारिक सूत्रों ने गुरुवार को यह जानकारी दी. सूत्रों ने कहा कि राजनाथ सिंहका सात अक्टूबर को तीन दिवसीय यात्रा के लिये पेरिस रवाना होने का कार्यक्रम है, जहां आठ अक्टूबर को भारतीय वायुसेना के स्थापना दिवस पर भारत को राफेल लड़ाकू विमान सौंपा जाएगा. फ्रांस को कुल 36 राफेल लड़ाकू विमान सौंपने हैं.

सूत्रों ने कहा कि रक्षा मंत्री विमान हासिल करने के बाद उसमें उड़ान भरेंगे. कार्यक्रम में फ्रांस के शीर्ष सैन्य अधिकारियों के साथ साथ रफाल की निर्माण कंपनी डसो एविएशन के वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद रहेंगे. राजनाथ सिंह 9 अक्टूबर को फ्रांस के शीर्ष रक्षा अधिकारियों के साथ दोनों देशों के बीच रक्षा और सुरक्षा सहयोग बढ़ाने के उपायों पर व्यापक चर्चा करेंगे.
Loading...

ये भी पढ़ें:

क्या तरक्की के मामले में भारत से आगे निकल जाएगा बांग्लादेश?

वर्दी छोड़ बिजनेस लीडर्स के साथ दिखे बाजवा, PAK में तख्तापलट की अटकलें तेज!

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 5, 2019, 3:44 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...