कोरोना की दूसरी लहर में कहां और कैसे कर सकते हैं हवाई यात्रा, जानें नियम

हवाई यात्रियों को करना होगा नियमों का पालन. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

हवाई यात्रियों को करना होगा नियमों का पालन. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

इंटरनेशनल फ्लाइट्स (International Flights) की बात करें तो कुछ देशों ने भारत से आने वाली फ्लाइट्स पर बैन लगा दिया है. वहीं अमेरिका जैसे देश ने भारत से आने-जाने वाले लोगों के लिए विशेष गाइडलाइंस जारी की हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 21, 2021, 4:28 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत में इस वक्त कोरोना की दूसरी लहर (Corona Second Wave) का जबरदस्त प्रकोप है. कई राज्य कोरोना की जबरदस्त चपेट में हैं. इस बीच भारत की एविएशन इंडस्ट्री को फिर झटका लगा है. 2020 में कोरोना की वैश्विक लहर में एविएशन इंडस्ट्री जबरदस्त प्रभावित हुई थी. पिछले कुछ महीने से हालात सामान्य होने की तरफ बढ़ रहे थे लेकिन अब फिर हालात बुरे होते दिख रहे हैं. नागरिक उड्डयन मंत्रालय द्वारा जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक इस वक्त देश में रोज 2 लाख से भी कम लोग रोज यात्राएं कर रहे हैं. ये बीते साल 25 मई को फ्लाइट्स खुलने के बाद सबसे बुरी स्थिति है.

अगर इंटरनेशनल फ्लाइट्स की बात करें तो कुछ देशों ने भारत से आने वाली फ्लाइट्स पर बैन लगा दिया है. वहीं अमेरिका जैसे देश ने भारत से आने-जाने वाले लोगों के लिए विशेष गाइडलाइंस जारी की हैं. 2020 के बाद दुनियाभर में उड़ानें प्रतिबंधित होने की वजह से भारत ने कई देशों के साथ एयर बबल पैक्ट किया था. हालांकि अब यूके और हांगकांग जैसे देशों ने एयर बबल रूट पर भी बैन लगा दिया है.

क्या है एयर बबल

ये टर्म कोरोना के दौरान ही गढ़ा गया और चलन में आया. इसे ट्रैवल बबल भी कहते हैं, जो केवल इंटरनेशनल उड़ानों के लिए इस्तेमाल होने वाला शब्द है. इसके तहत दो देश आपस में कुछ प्रतिबंधों और सख्ती के साथ नियमों को मानते हुए आवाजाही कर सकते हैं. यात्राएं न केवल बिजनेस के लिए, बल्कि सैरसपाटे के लिए भी हो सकती हैं. लेकिन हर हाल में सुरक्षा के लिए बनाए गए मानकों का पालन करना होता है.
किन देशों के साथ अब भी बरकरार है एयर बबल

भारत ने 2020 में अमेरिका, जर्मनी और फ्रांस जैसे देशों के साथ एयर बबल की शुरुआत की थी. इसके बाद से अब तक 27 देश ऐसे हैं जहां एयरबबल के जरिए यात्रा की जा सकती है. ये देश हैं-अफगानिस्तान, बहरीन, बांग्लादेश, भूटान, कनाडा, इथोपिया, फ्रांस, जर्मनी, इराक, जापान, केन्या, कुवैत, मालदीव्स, नेपाल, नाइजीरिया, ओमान, कतर, रूस, रवांडा, तंजानिया, यूक्रेन, यूएई, अमेरिका, उज्बेकिस्तान.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज