अपना शहर चुनें

States

अराजक तत्वों के साथ खड़े राहुल गांधी का सच देश के सामने आया: स्मृति ईरानी

स्‍मृति ईरानी ने राहुल गांधी पर निशाना साधा है. (फाइल फोटो)
स्‍मृति ईरानी ने राहुल गांधी पर निशाना साधा है. (फाइल फोटो)

Smriti Irani attacks Rahul Gandhi: राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि सरकार किसानों को धमकाने और डराने का प्रयास कर रही है. राहुल गांधी ने कहा, 'सरकार मध्य वर्ग को आने वाले समय में झटका देने जा रही है. आवश्यक वस्तुओं की कीमतें बढ़ जाएगी.'

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 29, 2021, 9:14 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने शुक्रवार को कहा कि आने वाले समय में किसान आंदोलन (Farmers Protest) गांवों से शहरों तक फैल जाएगा और इसका समाधान यही है कि सरकार को तीनों कानूनों को वापस लेना चाहिए. इसपर केंद्रीय मंत्री स्‍मृति ईरानी ने कहा, 'शांति की अपील करने के बजाय वह अराजक तत्वों से देश में आग लगाने के लिये कह रहे हैं.' इससे पहले, राहुल गांधी ने संवाददाताओं से कहा था, 'यह समझना जरूरी है कि ये तीनों कानून क्या हैं. पहले कानून से मंडिया खत्म हो जाएंगी. दूसरे कानून से बड़े कारोबारी अनाज की जमाखोरी कर लेंगे. तीसरे कानून से एमएसपी खत्म हो जाएगी.'

राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि सरकार किसानों को धमकाने और डराने का प्रयास कर रही है. राहुल गांधी ने कहा, 'सरकार मध्य वर्ग को आने वाले समय में झटका देने जा रही है. आवश्यक वस्तुओं की कीमतें बढ़ जाएगी.' कांग्रेस नेता ने कहा कि यह आंदोलन खत्म नहीं होने वाला और आने वाले समय में यह गांवों से शहरों तक फैल जाएगा. उन्होंने कहा, 'हम समाधान चाहते हैं. समाधान यही है कि कानूनों को वापस लिया जाए.'





ये भी पढ़ें: पंजाब: पंचायत का फरमान- हर घर का एक आदमी धरने पर जाएगा, नहीं तो  होगा बहिष्कार
ये भी पढ़ें: गणतंत्र दिवस पर उत्पात: नए ट्रैक्टरों पर बैठे हिंसक प्रदर्शनकारी किसान तो कतई नहीं थे

अखिलेश ने किसान नेता राकेश टिकैत से बात की
समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने शुक्रवार को किसान नेता राकेश टिकैत से टेलीफोन पर बात की. बाद में यादव ने कहा कि भाजपा सरकार ने किसान नेताओं को जिस तरह से प्रताड़ित किया है, उसे पूरा देश देख रहा है. यादव ने शुक्रवार को ट्वीट कर कहा, 'अभी राकेश टिकैत जी से बात करके उनके स्वास्थ्य का हाल जाना. भाजपा सरकार ने किसान नेताओं को जिस तरह आरोपित और प्रताड़ित किया है, उसे पूरा देश देख रहा है. आज तो भाजपा के समर्थक भी शर्म से सिर झुकाए और मुंह छिपाए फिर रहे हैं. आज देश की भावना और सहानुभूति किसानों के साथ है.'

उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा, 'अभी भाजपाई उत्पातियों ने सिंघू बॉर्डर पर किसानों के आंदोलन पर पथराव किया है. सारा देश देख रहा है कि भाजपा कुछ पूंजीपतियों के लिए कैसे देश के भोले किसानों पर अत्याचार कर रही है. भाजपा की साज़िश और बच्चों, महिलाओं और बुजुर्ग किसानों पर की जाने वाली निर्दयता घोर निंदनीय है.' गौरतलब है कि किसान नेता राकेश टिकैत कृषि कानूनों के विरोध में गाजीपुर बॉर्डर पर आंदोलन कर रहे है. (भाषा इनपुट के साथ)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज