कर्ज न चुका पाने पर किसान ने अपनी चिता जलाकर की आत्महत्या

फाइल पोटो
फाइल पोटो

अधिकारी ने कहा कि किसान ने अपने कृषि कर्ज की माफी के लिए राज्य सरकार की एक योजना के तहत आनलाइन आवेदन भी किया था लेकिन उसका नाम लाभार्थी की सूची में नहीं आया

  • Share this:
महाराष्ट्र के नांदेड जिले में कर्ज में डूबे एक किसान ने कथित रूप से अपने खेत में अपनी खुद की चिता जलाकर आत्महत्या कर ली. पुलिस के एक अधिकारी ने रविवार को बताया कि मृतक का नाम पी रामालू बोलपिलवड है और वह परोक्ष रूप से इसलिए परेशान था क्योंकि वह फसल अच्छी नहीं होने के चलते अपना कर्ज नहीं चुका पा रहा था. उक्त कर्ज उसने बैंकों और सहकारी सोसाइटी से लिया था.

एक अन्य अधिकारी ने कहा कि किसान ने अपने कृषि कर्ज की माफी के लिए राज्य सरकार की एक योजना के तहत आनलाइन आवेदन भी किया था लेकिन उसका नाम लाभार्थी की सूची में नहीं आया.

ये भी पढ़ें: महाराष्‍ट्र में कैसे रुकेगी किसानों की खुद्कुशी? 

अधिकारी ने कहा कि शुक्रवार शाम को बोलपिलवड तुरती गांव स्थित अपने खेत पर गया, वहां अपनी चिता सजाई और उसमें आग लगाकर आत्महत्या कर ली. अधिकारी ने कहा कि उमरी पुलिस थाने में एक दुर्घटनावश मृत्यु का एक मामला दर्ज कर लिया गया है और आगे की जांच जारी है.



ये भी पढ़ें:  आखिर क्यूं किसानों की कब्रगाह बन रहा है महाराष्ट्र?
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज