अपना शहर चुनें

States

ट्रैक्टर परेड हिंसा का आरोपी सुखदेव सिंह चंडीगढ़ से गिरफ्तार, 50 हजार रूपये का था इनाम

सीसीटीवी फुटेज और मोबाइल रिकॉर्डिंग के आधार पर पुलिस हिंसा के अन्य आरोपियों को तलाश में जुटी हुई है. फाइल फोटो
सीसीटीवी फुटेज और मोबाइल रिकॉर्डिंग के आधार पर पुलिस हिंसा के अन्य आरोपियों को तलाश में जुटी हुई है. फाइल फोटो

Republic Day Tractor rally Violence: दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने ट्रैक्टर परेड (Tractor Parade) में हिंसा के आरोपियों दीप सिद्धू (Deep Siddhu), जुगराज सिंह, गुरजोत सिंह और गुरजंत सिंह की गिरफ्तारी के लिए सूचना देने पर 1 लाख रुपये के इनाम का ऐलान किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 8, 2021, 12:37 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्र सरकार के तीन नए कृषि कानूनों (New Farm Law) के खिलाफ दिल्ली में 26 जनवरी को आयोजित किसानों की ट्रैक्टर परेड (Tractor Parade) में हुई हिंसा के मामले में आरोपी सुखदेव सिंह को दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच (Delhi Police Crime Branch) ने रविवार को चंडीगढ़ से गिरफ्तार कर लिया. सुखदेव सिंह के ऊपर पुलिस ने 50 हजार रुपये के इनाम का ऐलान किया था. पुलिस के मुताबिक पकड़ा गया आरोपी सुखदेव सिंह लाल किले में प्रवेश करने वाली भीड़ का नेतृत्व कर रहा था. दिल्ली पुलिस ने ट्रैक्टर परेड में हिंसा के आरोपियों दीप सिद्धू, जुगराज सिंह, गुरजोत सिंह और गुरजंत सिंह की गिरफ्तारी के लिए सूचना देने पर 1 लाख रुपये के इनाम का ऐलान किया है.

इसके अलावा अन्य आरोपियों जजबीर सिंह, बूटा सिंह और इकबाल सिंह पर 50 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया है. सुखदेव सिंह की गिरफ्तारी के साथ इस मामले में कुछ गिरफ्तार लोगों की संख्या 127 हो गई है. इससे पहले तीन लोगों 32 वर्षीय हरप्रीत सिंह, हरजीत 48 वर्षीय हरजीत सिंह और 55 वर्षीय धर्मेंदर सिंह को पुलिस ने गिरफ्तार किया था. ये तीनों दिल्ली के निवासी हैं. सीसीटीवी फुटेज और मोबाइल रिकॉर्डिंग के आधार पर पुलिस हिंसा के अन्य आरोपियों को तलाश में जुटी हुई है.

ये था मामला 
बता दें कि गणतंत्र दिवस के दिन दिल्ली में हुई हिंसा में तकरीबन 153 पुलिसकर्मी घायल हो गए थे, जबकि दो को गंभीर अवस्था में आईसीयू में भर्ती कराया गया था. इससे पहले प्रदर्शनकारियों ने पुलिस बैरिकेड तोड़ते हुए दिल्ली के विभिन्न इलाकों में प्रदर्शन किया. पुलिस के साथ झड़प के बावजूद प्रदर्शनकारी सुरक्षा घेरा तोड़ते हुए लालकिला पहुंचे और राष्ट्रीय प्रतीक पर धार्मिक झंडा फहरा दिया. ट्रैक्टर परेड के आयोजन में दिल्ली में कई जगहों पर हिंसा और पुलिस के साथ झड़प देखने को मिली.
आईटीओ पर ट्रैक्टर पलटने की वजह से एक प्रदर्शनकारी किसान की मौत हो गई, जोकि पूरे आयोजन की मुख्य घटना रही. बाद में पुलिस ने अपने बयान में कहा कि किसानों ने परेड के लिए समझौते का उल्लंघन किया.



हिंसा से जुड़े मामले में पुलिस ने कई एफआईआर दर्ज किए और तकरीबन 200 लोगों को गिरफ्तार किया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज