अपना शहर चुनें

States

Farmers Protest: SC द्वारा गठित कमेटी से भूपिंदर सिंह मान ने नाम लिया वापस

भारतीय किसान यूनियन द्वारा जारी एक प्रेस स्‍टेटमेंट में भूपिंदर सिंह मान की तरफ से यह घोषणा की गई.
भारतीय किसान यूनियन द्वारा जारी एक प्रेस स्‍टेटमेंट में भूपिंदर सिंह मान की तरफ से यह घोषणा की गई.

भारतीय किसान यूनियन द्वारा जारी एक प्रेस स्‍टेटमेंट में भूपिंदर सिंह मान की तरफ से कहा गया कि 'केंद्र सरकार द्वारा लाए गए तीन कृषि कानूनों पर किसान यूनियनों के साथ बातचीत करने के लिए मुझे 4 सदस्यीय समिति में नामित करने को लेकर मैं माननीय सर्वोच्च न्यायालय का आभारी हूं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 14, 2021, 11:25 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली : सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) द्वारा किसान आंदोलन (Kisan Andolan) का समाधान निकालने के लिए गठित की गई चार सदस्‍यीय कमेटी में शामिल भूपिंदर सिंह मान (अध्यक्ष बेकीयू) ने इस समिति से खुद का नाम वापस लेने का फैसला लिया है.

भारतीय किसान यूनियन द्वारा जारी एक प्रेस स्‍टेटमेंट में भूपिंदर सिंह मान की तरफ से कहा गया कि 'केंद्र सरकार द्वारा लाए गए तीन कृषि कानूनों पर किसान यूनियनों के साथ बातचीत करने के लिए मुझे 4 सदस्यीय समिति में नामित करने को लेकर मैं माननीय सर्वोच्च न्यायालय का आभारी हूं. एक किसान और स्वयं एक यूनियन नेता के रूप में, किसान संघों और आम जनता के बीच भावनाओं और आशंकाओं को देखते हुए मैं पंजाब या किसानों के हितों से समझौता नहीं करने के लिए किसी भी पद को छोड़ने के लिए तैयार हूं. मैं खुद को समिति से हटा रहा हूं और मैं हमेशा अपने किसानों और पंजाब के साथ खड़ा रहूंगा'.








पूर्व राज्‍यसभा सांसद सरदार भूपिंदर सिंह मान बीकेयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष और अखिल भारतीय किसान समन्वय समिति के अध्यक्ष हैं.

दरअसल, सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में विवाद के समाधान के लिए एक चार सदस्‍यीय कमिटी बनाई है. इस कमेटी में भूपिंदर सिंह मान के अलावा डॉ प्रमोद कुमार जोशी (अंतर्राष्ट्रीय खाद्य नीति अनुसंधान संस्थान), अशोक गुलाटी (कृषि अर्थशास्त्री) और अनिल धनवट (शिवकेरी संगठन, महाराष्ट्र) हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज