अपना शहर चुनें

States

Farmers Protest: सिंघु बॉर्डर पर पकड़ा गया 'शूटर', बोला- 26 जनवरी को 4 किसान नेताओं को गोली मारने की थी साजिश

दिल्ली-हरियाणा सिंघु बॉर्डर से पकड़े गए शूटर को ले जाती पुलिस.
दिल्ली-हरियाणा सिंघु बॉर्डर से पकड़े गए शूटर को ले जाती पुलिस.

Kisan Andolan: सिंघू बॉर्डर पर किसानों द्वारा पकड़े गए संदिग्ध शूटर ने बताया कि 26 तारीख को जब चार किसान नेता मंच पर बैठे होते उसी वक्त गोली मारने के आदेश उसे दिए गए थे. इसके लिए शूटर को चार लोगों की तस्वीर भी दी गई थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 23, 2021, 7:05 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. नए कृषि कानून (Agricultural Law) को रद्द कराने की मांग को लेकर दिल्ली-हरियाणा सिंघु बॉर्डर पर बैठे किसानों ने सनसनीखेज खुलासा किया है. सिंघु बॉर्डर (Singhu Border) पर शुक्रवार रात किसानों ने एक संदिग्ध शूटर को पकड़ा है. मीडिया से बात करते हुए उस कथित शूटर ने दिल्ली पुलिस (Delhi Police) पर गंभीर आरोप लगाए हैं. उसका कहना है कि 26 जनवरी को कुछ गलत होने पर मंच पर बैठे चार किसान नेताओं को गोली मारने के उसे आदेश दिए गए थे.

पकड़े गए शूटर ने दावा किया है कि 26 जनवरी को किसान ट्रैक्टर रैली में वह गोली चलाकर माहौल खराब करने की साजिश रचने वाला था. किसानों ने जिस संदिग्ध को पकड़ा है उसने बताया कि 23 से 26 जनवरी के बीच किसान नेताओं को गोली मारी जानी थी और महिलाओं का काम लोगों को भड़काना था. शूटर ने कबूल किया कि उसने जाट आंदोलन में भी माहौल बिगाड़ने का काम किया है.


संदिग्ध ने खुलासा किया कि प्रदर्शनकारी किसान हथियार लेकर जा रहे हैं या नहीं, यह पता लगाने के लिए दो टीमें लगाई गई हैं. शूटर की ओर से बताया गया कि 26 तारीख को जब चार किसान नेता मंच पर बैठे होते उसी वक्त गोली मारने के आदेश उसे दिए गए थे. इसके लिए शूटर को चार लोगों की तस्वीर भी दी गई थी. शूटर ने बताया कि वह 19 जनवरी से सिंघु बॉर्डर पर है. उसने बताया कि जब 26 जनवरी को किसान ट्रैक्टर रैली निकालते तो वह किसानों के साथ ही मिल जाता. अगर प्रदर्शनकारी परेड के साथ निकलते तो हमें उनपर फायर करने के लिए कहा गया था.



इसे भी पढ़ें :- Kisan Andolan: पंजाब CM अमरिंदर सिंह का ऐलान, किसान आंदोलन में मरने वाले के परिवार को देंगे सरकारी नौकरी

सोनीपत का रहने वाला है आरोपी योगेश
सिंघु बार्डर पर पकड़े गए शूटर को क्राइम ब्रांच के दफ्तर ले जाया गया है. पूछताछ के दौरान पता चला है कि आरोपी का नाम योगेश है और वह सोनीपत के न्यू जीवन नगर का निवासी है. पुलिस के मुताबिक आरोपी 9वीं फेल है और उसका अभी तक कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज