vidhan sabha election 2017

फारूक बोले: PoK इनके बाप का नहीं, पाक ने चूड़ियां नहीं पहनी है

News18Hindi
Updated: November 15, 2017, 9:04 PM IST
फारूक बोले: PoK इनके बाप का नहीं, पाक ने चूड़ियां नहीं पहनी है
फारूक अब्दुल्ला (फाइल फोटो- PTI)
News18Hindi
Updated: November 15, 2017, 9:04 PM IST
नेशनल कांफ्रेंस के प्रमुख फारूक अब्दुल्ला ने आज एक और विवादास्पद बयान देते हुए कहा कि पाकिस्तान ने चूड़ियां नहीं पहन रखी हैं और उसके पास भी परमाणु बम है, वह भारत को जम्मू-कश्मीर के अपने कब्जे वाले हिस्से पर नियंत्रण नहीं करने देगा.

पिछले हफ्ते उन्होंने कहा था कि ‘पीओके पाकिस्तान का है.’ उत्तर कश्मीर के बारामूला जिले के उरी सेक्टर में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, ‘हम कब तक कहते रहेंगे कि पीओके हमारा हिस्सा है? यह (पीओके) उनके बाप की जागीर नहीं है. पीओके पाकिस्तान में है और यह (जम्मू-कश्मीर) भारत में है.’

उन्होंने कहा कि 70 वर्ष हो गए लेकिन ‘वे (भारत) इसे (पीओके) हासिल नहीं कर सके.’ अब्दुल्ला ने कहा, ‘आज, वे (भारत) दावा करते हैं कि ये हमारा है. तो इसे (पीओके) हासिल कर लीजिए, हम भी कह रहे हैं कि कृपया इसे (पाकिस्तान से) हासिल कर लीजिए. हम भी देखेंगे. वे (पाकिस्तान) इतने कमजोर नहीं हैं और उन्होंने कोई चूड़ियां नहीं पहन रखी हैं. उनके पास भी एटम बम है. युद्ध के बारे में सोचने से पहले हमें सोचना होगा कि इंसान के रूप में हम कैसे रहेंगे?’



श्रीनगर से लोकसभा के सांसद ने पिछले हफ्ते भी विवादास्पद टिप्पणी की थी जब उन्होंने कहा था कि पीओके पाकिस्तान का है और दोनों देश कितना भी लड़ लें, ये बदलने वाला नहीं है.


उन्होंने कहा था, ‘मैं न केवल भारत के लोगों बल्कि दुनिया से भी सीधे शब्दों में कहता हूं कि जम्मू-कश्मीर का जो हिस्सा पाकिस्तान के पास है (पीओके) वह पाकिस्तान का है और इस तरफ का हिस्सा भारत का है. यह नहीं बदलेगा. वे चाहे जितनी लड़ाइयां लड़ लें. इसमें बदलाव नहीं होगा.’ उनके बयान पर भाजपा ने भी तीखी प्रतिक्रिया जताई थी और बिहार में उनके खिलाफ मामला भी दर्ज हुआ था.

उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा, ‘मेरे खिलाफ मामला दर्ज हुआ है. वह भी एक मुस्लिम ने दर्ज करवाया है, अल्लाह उसे सलामत रखे. उसकी दशा देखिए, वह कश्मीर के बारे में नहीं जानता. वह हमारी स्थिति के बारे में नहीं जानता. वे (पाकिस्तान) बम गिराते हैं तो यहां (कश्मीर में) आम आदमी और सैनिक मरते हैं और जब बम यहां से गिराया जाता है तो वहां (पीओके) भी हमारे लोग और सैनिक मरते हैं. कब तक यह बवाल चलेगा? कब तक निर्दोष लोगों का खून बहेगा?’

उन्होंने उम्मीद जताई कि वह दिन भी आएगा जब लोग नियंत्रण रेखा के आर-पार उन्मुक्त होकर आ-जा सकेंगे. उन्होंने कहा, ‘ऐसा दिन आएगा जब लोग नियंत्रण रेखा इस तरह से पार करेंगे जैसे एक घर से दूसरे घर में जा रहे हैं. विश्वास रखिए ऐसा दिन आएगा और इसके बगैर इस देश में शांति कायम नहीं होगी.’

फारूक अब्दुल्ला के खिलाफ केस दर्ज करने का आदेश
बिहार के पश्चिम चंपारण जिला की एक अदालत ने जम्मु-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज किए जाने का आदेश दिया है. मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी जयराम प्रसाद ने पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर को लेकर फारूक अब्दुल्लाह द्वारा हाल में दिए गए बयान को लेकर अधिवक्ता मुराद अली के द्वारा दायर एक परिवाद पत्र की कल सुनवाई करते हुए नगर थाना को प्राथमिकी दर्ज करने आदेश दिया.

एफआईआर में अली ने आरोप लगाया है कि गत 12 नवम्बर को फारूक अब्दुल्ला का पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर को लेकर दिया गया बयान राष्ट्रीय अखंडता के खिलाफ है और देश के नागरिकों का अपमान है. नगर थाना अध्यक्ष नित्यानंद चौहान ने आज बताया कि अदालत के आदेश की प्रति उन्हें अब तक प्राप्त नहीं हुई है. प्राप्त होते ही प्राथमिकी दर्ज कर अग्रतर कार्रवाई की जाएगी.

(एजेंसी इनपुट के साथ)
First published: November 15, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर