फारूक अब्दुल्ला ने कहा- आर्टिकल 35ए बदला तो हालात संभालना मुश्किल होगा

श्रीनगर लोकसभा से सदस्य अब्दुल्ला ने यह भी कहा कि अनुच्छेद 35ए को कोई छू नहीं सकता. संविधान पीठ पहले ही दो बार यह कह चुकी है. मुझे नहीं पता कि वे हर बार इस जख्म को क्यों खरोंचते हैं.

भाषा
Updated: August 11, 2018, 10:49 PM IST
फारूक अब्दुल्ला ने कहा- आर्टिकल 35ए बदला तो हालात संभालना मुश्किल होगा
File photo of Farooq Abdullah. (PTI)
भाषा
Updated: August 11, 2018, 10:49 PM IST
नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला ने शनिवार को कहा कि वह अनुच्छेद 35ए के लिए आखिरी सांस तक लड़ेंगे और अगर इस संवैधानिक प्रावधान को हटाया गया तो हालात संभालना मुश्किल हो जाएगा. जम्मू-कश्मीर की जनता को विशेषाधिकार देने वाला अनुच्छेद 35ए फिलहाल हाई कोर्ट में कानूनी चुनौती का सामना कर रहा है.

अब्दुल्ला ने कहा, ‘‘मैं आखिरी सांस तक उनके खिलाफ लड़ता रहूंगा.’’

एनसी नेता ने कहा, ‘‘उन्हें केवल कश्मीर याद आता है, हिमाचल, अरुणाचल और नगालैंड नहीं.’’

जब अब्दुल्ला से पूछा गया कि अनुच्छेद 35ए समाप्त होने पर वह कश्मीर में कैसे हालात का पूर्वानुमान लगाते हैं तो उन्होंने कहा, ‘‘आप खुद ही देखेंगे. फिर दिल्ली भी इसे देखेगी और इसे संभालना उनके लिए मुश्किल हो जाएगा.’’

श्रीनगर लोकसभा से सदस्य अब्दुल्ला ने यह भी कहा कि अनुच्छेद 35ए को कोई छू नहीं सकता. संविधान पीठ पहले ही दो बार यह कह चुकी है. मुझे नहीं पता कि वे हर बार इस जख्म को क्यों खरोंचते हैं.
पूरी ख़बर पढ़ें
Loading...
अगली ख़बर