फारूक अब्दुल्ला को नमाज पढ़ने के लिए घर से बाहर जाने से रोका गया

फारूक अब्दुल्ला को नमाज पढ़ने के लिए बाहर जाने से रोका गया
फारूक अब्दुल्ला को नमाज पढ़ने के लिए बाहर जाने से रोका गया

नेशनल कॉन्फ्रेंस (National Conference) के मुताबिक फारूक अब्दुल्ला (Farooq Abdullah) हजरतबल दरगाह जाना चाहते थे लेकिन उन्हें ऐसा करने से रोक दिया गया. वहीं इस मामले में अभी तक प्रशासन की ओर से कोई टिप्पणी नहीं की गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 30, 2020, 3:55 PM IST
  • Share this:
श्रीनगर. नेशनल कॉन्फ्रेंस (National Conference) ने दावा किया है कि जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) में पार्टी अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला (Farooq Abdullah) को घर से बाहर नहीं निकलने दिया जा रहा है. पार्टी ने दावा किया है ईद-मिलाद-उन-नबी के मौके पर उन्हें घर से बाहर नहीं निकलने दिया गया, जिसके कारण वह बाहर जाकर नमाज नहीं पढ़ सके. नेशनल कॉन्फ्रेंस के मुताबिक फारूक अब्दुल्ला हजरतबल दरगाह जाना चाहते थे लेकिन उन्हें ऐसा करने से रोक दिया गया. वहीं इस मामले में अभी तक प्रशासन की ओर से कोई टिप्पणी नहीं की गई है.

इस पूरे मामले पर नेशनल कॉन्फ्रेंस की ओर से ट्वीट कर बताया गया कि जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने पार्टी अध्यक्ष डॉ. फारूक अब्दुल्ला के आवास को पूरी तरह से बंद कर दिया है. उन्हें नमाज पढ़ने के लिए दरगाह हजरतबल जाने से भी रोक दिया गया. पार्टी ने कहा कि ईद- मिलाद-उन-नबी के पवित्र अवसर पर प्रार्थना के मौलिक अधिकार के उल्लंघन की निंदा करता है.





इसे भी पढ़ें :- गुपकार ग्रुप के नेता कश्मीर में बना रहे खास प्लान, घाटी में बढ़ी सियासी हलचल
बता दें कि नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला शुक्रवार को डल झील के किनारे स्थित हजरतबल दरगाह पर जाकर नमाज पढ़ने वाले थे. वह नमाज पढ़ने के लिए जैसे ही निकलने वाले थी तभी उन्हें घर से बाहर आने से रोक दिया गया.पैगम्बर मोहम्मद की जयंती के अवसर पर ईद-मिलाद-उन-नबी मनाया जाता है. इसे इस्लामी कैलेंडर के तीसरे माह रबी-अल अव्वल में मनाया जाता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज