होम /न्यूज /राष्ट्र /

75th Independence Day: कश्मीर में बुरहान वानी के पिता ने फहराया तिरंगा, कभी आतंकियों का पोस्टर बॉय था बेटा

75th Independence Day: कश्मीर में बुरहान वानी के पिता ने फहराया तिरंगा, कभी आतंकियों का पोस्टर बॉय था बेटा

जम्मू और कश्मीर के त्राल में बुरहान वानी के पिता ने तिरंगा लहराया.

जम्मू और कश्मीर के त्राल में बुरहान वानी के पिता ने तिरंगा लहराया.

Jammu and Kashmir में बुरहान वानी हिज्बुल मुजाहिद्दीन का कमांडर था और सुरक्षा बलों ने उसे 2016 में मारा गिराया था. बुरहान त्राल का रहने वाला था और घाटी में आतंक के समर्थकों के लिए पोस्टर बॉय था.

    श्रीनगर. 75वें स्वतंत्रता दिवस (75th Independence Day) समारोह के मौके पर केंद्रशासित प्रदेश जम्मू और कश्मीर (Jammu and Kashmir) के त्राल में बुरहान वानी (Burhan Wani) के पिता ने तिरंगा लहराया है. दरअसल बुरहान वानी के पिता मुजफ्फर अहमद वानी हायर सरकारी सेकेंडरी स्कूल के हेडमास्टर हैं और स्वतंत्रता दिवस के मौके पर उन्होंने स्कूल में तिरंगा फहराया है. बता दें कि बुरहान वानी हिज्बुल मुजाहिद्दीन का कमांडर था और सुरक्षा बलों ने उसे 2016 में मारा गिराया था. बुरहान त्राल का रहने वाला था और घाटी में आतंक के समर्थकों के लिए पोस्टर बॉय था.

    2010 में सिर्फ 15 साल की उम्र में बुरहान हिज्बुल मुजाहिद्दीन से जुड़ गया था. ऐसा माना जाता है कि सेना ने उसके भाई के साथ दुर्व्यवहार किया था, इसलिए वह आतंकी बना. बुरहान वानी सुर्खियों में तब आया, जब उसने सेना की वर्दी में हथियार लिए अपनी तस्वीरें सोशल मीडिया पर शेयर कीं. अधिकारियों का कहना था कि बुरहान दक्षिणी कश्मीर में 11 से 15 आतंकियों के गुट की अगुवाई कर रहा था.

    सुरक्षा बलों के हाथों मारे जाने से पहले बुरहान के वीडियो, हथियारों से लैस फोटो और सुरक्षा बलों का मजाक उड़ाने वाले मैटर सोशल मीडिया और व्हाट्स ऐप पर खूब शेयर किए जाते थे, ताकि युवा कश्मीरियों को आतंकवाद की तरफ आकर्षित किया जा सके.

    बुरहान की मौत के बाद उसके पिता सुरक्षा बलों के खिलाफ प्रदर्शन की अगुवाई कर रहे थे. इसमें उनका पूरा परिवार भी शामिल था, लेकिन अब पांच साल बाद बुरहान के पिता ने घाटी में तिरंगा लहराया है.

    तीन साल में पहली बार स्वतंत्रता दिवस पर इंटरनेट, मोबाइल सेवा पर पाबंदी नहीं
    वहीं जम्मू कश्मीर में तीन वर्षों में पहली बार स्वतंत्रता दिवस के मौके पर इंटरनेट और मोबाइल सेवा निर्बाध रूप से जारी रहीं जहां तनावमुक्त माहौल में जश्न-ए-आजादी मनाया जा रहा है. अधिकारियों ने रविवार को यह जानकारी दी.

    पुलिस महानिरीक्षक (कश्मीर) विजय कुमार ने एक ट्वीट कर कहा, “न तो इंटरनेट बंद है न ही स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर पाबंदियां हैं.’

    यह तीन वर्षों में पहली बार है जब स्वतंत्रता दिवस पर कश्मीर में इंटरनेट और मोबाइस सेवाएं प्रभावित नहीं हैं. पहले सुरक्षा इंतजामों के तहत स्वतंत्रता दिवस और गणतंत्र दिवस पर ये सेवाएं बंद कर दी जाती थीं. इससे पहले 2018 में राज्यपाल एन एन वोहरा के कार्यकाल के दौरान ये सेवाएं बंद नहीं की गई थीं.

    Tags: 75th Independence Day, Govt Higher secondary Tral, Hizbul Commander Burhan Wani, Muzaffar Ahmad Wani

    अगली ख़बर