Assembly Banner 2021

परिवहन मंत्रालय को साइबर हमले का डर, NHAI और ऑटों कंपनियों को किया अलर्ट

सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने भारतीय परिवहन क्षेत्र पर साइबर हमले की आशंका जताई है.

सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने भारतीय परिवहन क्षेत्र पर साइबर हमले की आशंका जताई है.

सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय (Ministry of Road Transport and Highways) को भारतीय परिवहन क्षेत्र की ओर लक्षित दुर्भावनापूर्ण इरादे के साथ हस्तक्षेप की आशंका को लेकर सीईआरटी-इन से सतर्क रहने का संदेश प्राप्त हुआ है.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय (Ministry of Road Transport and Highways) ने भारतीय परिवहन क्षेत्र पर साइबर हमला (Cyber Attack) होने के संभावित खतरे को देखते हुए भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI), राष्ट्रीय राजमार्ग एवं अवसंरचना विकास निगम लिमिटेड (NHIDCL) के साथ ही वाहन विनिर्माता कंपनियों को भी सतर्क किया है. मंत्रालय ने कहा है कि उसे इस तरह के हमले के खतरे के बारे में इंडियन कंम्युटर इमरजेंसी रिस्पोंस टीम (CRT-IN) ने सतर्क किया है.

मंत्रालय द्वारा जारी एक बयान में कहा गया है, सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय को भारतीय परिवहन क्षेत्र की ओर लक्षित दुर्भावनापूर्ण इरादे के साथ हस्तक्षेप की आशंका को लेकर सीईआरटी-इन से सतर्क रहने का संदेश प्राप्त हुआ है. मंत्रालय ने इस स्थिति को देखते हुए उसके तहत आने वाले विभागों और संगठनों को उनके सूचना प्रौद्योगिकी ढांचे को मजबूत रखने को कहा है.

मंत्रालय ने एनआईसी, एएचएआई, एनएचआईडीसीएल, भारतीय सड़क कांग्रेस, इंडियन एकेडमी आफ हाइवे इंजीनियवर्स (आईएएचई), राज्यों के सड़क लोक निर्माण विभाग, परीक्षण एजेंसियों और वाहन विनिर्माताओं से अपनी समूची आईअी प्रणाली का सीईआरटी-इन प्रमाणित एजेंसियों से सुरक्षा आडिट कराने का आग्रह किया है.
इसे भी पढ़ें :- महाराष्ट्र में बिजली विभाग पर साइबर हमले की बात सामने आने के बाद सियासत तेज



मंत्रालय ने इन संगठनों, एजेंसियों से कहा है कि वह इस प्रकार का सुरक्षा आडिट नियमित आधार पर कराते रहें और उनके द्वारा दी जाने वाली सिफारिशों पर आगे कदम उठाएं. इस प्रकार की आडिट रिपोर्ट और उस पर की गई कार्रवाई रिपोर्ट को नियमित रूप से मंत्रालय को सौंपने को भी कहा गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज