कोरोना कालः पिछले 3 महीनों में हवाई यात्रा के दौरान लोगों में संक्रमण का डर हुआ कम

सर्वेक्षण में यात्रियों की हवाई यात्रा के दौरान तीन सबसे बड़ी चिंता पृथक-वास की जरूरत थी.
सर्वेक्षण में यात्रियों की हवाई यात्रा के दौरान तीन सबसे बड़ी चिंता पृथक-वास की जरूरत थी.

विस्तार एयरलाइन ने अगस्त में जब 4,550 यात्रियों पर दूसरा सर्वेक्षण किया तो ये आंकड़े घटकर क्रमश: 22 और 17 प्रतिशत रह गए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 4, 2020, 7:11 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. विस्तार एयरलाइंस के सर्वेक्षण के मुताबिक हवाई यात्रियों में गत तीन महीने में यात्रा के दौरान और साथी यात्री द्वारा कोविड-19 नियमों (Covid-19 Rules) का अनुपालन नहीं करने की वजह से संक्रमित होने का भय कम हुआ है. विस्तार एयरलाइन ने जून में 6000 यात्रियों पर सर्वेक्षण किया था तब 34 प्रतिशत ने माना था कि उन्हें यात्रा के दौरान संक्रमित होने का डर है जबकि 32 प्रतिशत यात्रियों ने कहा था कि साथी यात्री की लापरवाही से उनके भी महामारी की चपेट में आने का भय है.

विस्तार एयरलाइन ने अगस्त में जब 4,550 यात्रियों पर दूसरा सर्वेक्षण किया तो ये आंकड़े घटकर क्रमश: 22 और 17 प्रतिशत रह गए. दूसरे सर्वेक्षण में यात्रियों की हवाई यात्रा के दौरान तीन सबसे बड़ी चिंता पृथक-वास की जरूरत, अधिक किराया और यात्रा के दौरान सक्रंमित होने के खतरे को लेकर थी.

ये थी यात्रियों की तीन सबसे बड़ी चिंता
वहीं, पहले सर्वेक्षण में यात्रियों की तीन सबसे बड़ी चिंता, हवाई यात्रा के दौरान कोविड-19 की चपेट में आने, साथी यात्री से संक्रमित होने और उच्च किराया को लेकर थी. सर्वेक्षण के बुधवार को जारी नतीजों के मुताबिक तीन में दो यात्री ने कहा कि वह एक शहर से दूसरे शहर यात्रा करने के लिए हवाई यात्रा को सबसे सुरक्षित मानते हैं.




28 प्रतिशत यात्रियों ने कही ये बात
दूसरे सर्वेक्षण के मुताबिक 63 प्रतिशत यात्रियों ने अगले छह महीने में यात्रा करने की इच्छा जताई जबकि 28 प्रतिशत ने कहा कि वे अपनी यात्रा को अगले साल या हालात ठीक होने तक टाल देंगे. ये आंकड़े पहले सर्वेक्षण के लगभग बराबर ही हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज